अमेरिका में पतंजलि शर्बत के खिलाफ दर्ज हो सकता है केस, गलत दावों के साथ प्रोडक्ट बेचने का लगा आरोप

baba ramdev,patanjali

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. योग गुरु बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि आयुर्वेद मुसीबतों के घेरे में है। जानकारी के मुताबिक, अमेरिका में पतंजलि कंपनी के दो शर्बत ब्रांड बेल और गुलाब शर्बत की बिक्री पर रोक लग सकती है। अमेरिकी खाद्य विभाग पतंजलि आयुर्वेद कंपनी के खिलाफ केस दर्ज करने पर विचार कर रहा है। यदि इस मामले में पतंजलि कंपनी दोषी पाई गई तो उस पर करीब 3 करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया जा सकता है।

क्या है मामला

अमेरिकी स्वास्थ्य नियामक यूनाइटेड स्टेट्स फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (यूएसएफडीए) ने हाल ही में एक रिपोर्ट जारी की है जिसके मुताबिक, पतंजलि आयुर्वेद कंपनी के दो शर्बत ब्रांड पर में अलग-अलग दावे किए गए हैं। अमेरिकी स्वास्थ्य विभाग ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि, पतंजलि कंपनी ने भारत में बेचे जाने के लिए शर्बत उत्पादों के लेबल पर अलग दावे और अमेरिका निर्यात किए जाने वाले शर्बत में अलग दावे किए हैं। उन्होंने यह भी कहा कि, कंपनी दोनों देशों के लिए अलग-अलग उत्पादन और पैकेजिंग करती है।

भारत में भी लग सकता है कंपनी के खिलाफ जुर्माना

सूत्रों के मुताबिक, यदि यह आरोप सही पाए गए तो कंपनी के खिलाफ आपराधिक मुकदमा और पांच लाख अमेरिकी डॉलर तक का जुर्माना लग सकता है। इसके अलावा कंपनी के अधिकारियों को तीन साल तक की सजा हो सकती है। साथ ही अगर भारत में कंपनी को गलत ब्रांडिंग और गलत दावों के साथ अपने उत्पादों की बिक्री करते हुए दोषी पाया गया तो उसके खिलाफ फूड सेफ्टी एंड स्टैंडर्ड (FSS) एक्ट 2006 के तहत 3 लाख रुपए का जुर्माना लगाया जा सकता है।

साल 2018-19 में बढ़ी कमाई

रिपोर्ट्स के मुताबिक, पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड की कमाई साल 2017-18 में 10 प्रतिशत की गिरावट के साथ 8,135 करोड़ पर पहुंच गई थी। लेकिन यह साल 2018-19 में बढ़कर 9,030 करोड़ रुपए पर पहुंच गई।

 

Related posts