तेज रफ्तार कार ने सड़क किनारे सो रहे तीन बच्चों को कुचला, भीड़ ने ड्राइवर को मार डाला

चैतन्य भारत न्यूज

पटना. बिहार की राजधानी पटना में मंगलवार देर रात एक दर्दनाक हादसा हुआ। यहां कुम्हार इलाके में एसयूवी ने सड़क किनारे सोए हुए चार बच्चों को रौंद दिया। इनमें से तीन बच्चों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि एक बच्चे को गंभीर हालत में इलाज के लिए नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घटना के बाद गुस्साए लोगों ने ड्राइवर की इतनी पिटाई की कि उसकी मौत हो गई।

घटना अगमकुआं थाना क्षेत्र के दाऊद बीघा के पास जकीर-उल-हक हरिजन कॉलोनी के पास घटी। यहां एक एसयूवी कार ने सड़क किनारे सोए हुए चार युवकों को कुचल दिया। बच्चों की मौत के बाद लोगों ने कानून अपने हाथ में ले लिया। आक्रोशित भीड़ ने ड्राइवर को धर दबोचा और जमकर पिटाई कर दी। सूत्रों के मुताबिक, गाड़ी में दो लोग सवार थे। लोगों को कुचलते हुए चालक गाड़ी तेज चलाने लगा, इस चक्कर में गाड़ी एक पोल से टकरा गई और पलट गई। हादसे में गाड़ी के भी परखच्चे उड़ गए। पिटाई के दौरान ड्राइवर की मौत हो गई, जबकि दूसरे कार सवार की हालत नाजुक बनी हुई है।

मृतक बच्चों की पहचान भागीरथ मांझी के 13 वर्षीय पुत्र रोहित कुमार, दशरथ मांझी के 9 वर्षीय पुत्र हरेंद्र कुमार और जीतन मांझी के 11 वर्षीय पुत्र राजीव कुमार के रूप में हुई है। जबकि ललित जी का पुत्र 15 वर्षीय मनीष कुमार का गंभीर अवस्था में अस्पताल में इलाज चल रहा है। घटना मंगलवार रात करीब दो बजे हुई। इस हादसे के बाद आक्रोशित लोगों ने घटनास्थल पर जाम कर लगा दिया था। इतना ही नहीं लोगों ने सड़क पर गाड़ी के टायर जलाकर प्रदर्शन भी किया। फिर सुबह करीब 6 बजे पुलिस के हस्तक्षेप करने के बाद लोगों ने जाम हटाया। तीनों बच्चों के शव को पोस्टमार्टम के लिए एनएमसी अस्पताल भेज दिया गया।

Related posts