महज 32 सेकंड के शुभ मुहूर्त में पीएम मोदी करेंगे राम मंदिर की नींव पूजा, अभिजीत मुहूर्त में होगा पूजन

चैतन्य भारत न्यूज

अयोध्या. रामनगरी अयोध्या में करीब पांच सौ वर्ष बाद भगवान श्रीराम के मंदिर बनने की हर घड़ी का लोगों को बेसब्री से इंतजार है। राम मंदिर का पांच अगस्त को शिलान्यास होने वाला है। इसे लेकर अयोध्या में तैयारियां जोरों पर हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राम जन्मभूमि परिसर में भूमि पूजन कर राम मंदिर की आधाशिला रखेंगे। श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्यगोपालदास के उत्तराधिकारी महंत कमलनयन दास ने 5 अगस्त के दिन की वह शुभ घड़ी भी बताया है जब राम मंदिर के लिए पीएम मोदी आधारशिला रखेंगे।

पीएम मोदी के पास पूजन के लिए सिर्फ 32 सेकंड

बता दें प्रधानमंत्री मोदी के पास भूमि मंदिर के नींव पूजन के लिए 5 अगस्त को सिर्फ 32 सेकंड होंगे। इस अभिजीत मुहूर्त में 500 साल की कोशिशों को साकार करने की शुरुआत होगी। अभिजीत मुहूर्त में ही श्रीराम का जन्म हुआ था। यह शुभ मुहूर्त ज्योतिष शास्त्र में उत्तर-दक्षिण के संगम से निकला है। मुहूर्त का समय 5 अगस्त को मध्याह्न 12 बजकर 15 मिनट के आसपास है। इस मुहूर्त को काशी के प्रकांड विद्वान गणेश्वर शास्त्री द्रविड ने निकाला है। अभिजीत मुहूर्त में नींव पूजन सुनिश्चित करने के लिए काशी विद्वत परिषद के मंत्री प्रो। राम नारायण द्विवेदी के साथ तीन आचार्य निगाह रखेंगे।

काशी से 5 लोग बनेंगे भूमि पूजन के साक्षी

बाबा विश्वनाथ की नगरी काशी से 5 लोग भूमि पूजन के इस ऐतिहासिक कार्यक्रम के साक्षी बनेंगे। काशी से 2 संत और 3 काशी विद्वत परिषद के ज्योतिषों को कार्यक्रम का निमंत्रण मिला है। अखिल भारतीय संत समिति के राष्ट्रीय महामंत्री स्वामी जितेन्द्रानंद सरस्वती, सतुआ बाबा आश्रम से महंत संतोष दास के अलावा प्रोफेसर राम चन्द्र पाण्डेय, प्रोफेसर विनय पाण्डेय और प्रोफेसर राजनारायण द्विवेदी राम मंदिर के भूमि पूजन और आधारशिला रखने का अनुष्ठान संपन्न कराएंगे।

3 अगस्त को गणेशपूजा

महंत कमलनयन दास के मुताबिक विद्वान पंडितों की टीम 3 अगस्त से ही मंदिर के गर्भस्थल व परिसर में गणेश पूजन कर सारे विघ्न दूर करने के लिए भगवान गणेश का आह्वान करेगी। अगले दिन 4 अगस्त को रामार्चा पूजा होगी और 5 अगस्त को सुबह से भूमि पूजन व अनुष्ठान के सारे कार्यक्रम पीएम के आने तक पूरे कर लिए जाएंगे। जिससे पीएम का कार्यक्रम अल्प समय में ही सम्पन्न हो सके।

ये भी पढ़े…

5 अगस्त को अभिजीत मुहूर्त में पीएम मोदी कर सकते हैं राम मंदिर का भूमि पूजन, जानिए इस मुहूर्त का प्रभु श्रीराम से क्या है संबंध

161 फीट ऊंचा होगा तीन मंजिला राम मंदिर, 2023 तक होगा तैयार, भव्य मंदिर के डिजाइन में किए गए ये खास बदलाव

राम मंदिर के भूमि पूजन मुहूर्त को लेकर विवाद, शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती ने शिलान्यास के वक्त को बताया अशुभ

3 दिन तक चलेगा राम मंदिर का भूमि पूजन, ये है पूरा कार्यक्रम

अयोध्या में राम मंदिर का भूमि पूजन पांच अगस्त को, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे

 

Related posts