लॉकडाउन में बेसहारा पशुओं का सहारा बनीं पूर्व मेजर प्रमिला, पीएम मोदी ने की तारीफ

चैतन्य भारत न्यूज

कोटा. पिता के संस्कारों की राह चल बेजुबान पशुओं का सहारा बनी कोटा की पूर्व मेजर को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सराहना मिली है। दरअसल, प्रमिला सिंह ने अपने पिता श्यामवीर सिंह के साथ जमापूंजी से लॉकडाउन में सड़कों पर घूम रहे आवारा जानवरों के लिए खाने और इलाज की व्यवस्था की। इस अनोखे काम के लिए पीएम ने पत्र लिखकर उनको धन्यवाद दिया है।

पीएम का पत्र

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोटा के श्रीनाथुपरम निवासी सेना से रिटायर्ड मेजर प्रमिला सिंह के इस कार्य को समाज के लिए प्रेरणाजनक बताते हुए सराहा है। मोदी ने प्रमिला सिंह को पत्र लिखकर उनके इस कार्य को दयाभाव वाला बताया है। पीएम मोदी ने अपने पत्र में कहा, ‘पिछले लगभग डेढ़ वर्षों में, हमने अभूतपूर्व परिस्थितियों का सामना दृढ़ता के साथ किया है। यह एक ऐसा ऐतिहासिक काल है जिसे लोग जीवन भर नहीं भूलेंगे। यह न केवल मनुष्यों के लिए बल्कि कई मनुष्यों के निकट रहने वाले जीव के लिए भी एक कठिन अवधि है।’

प्रधानमंत्री ने उन्हें एक पत्र में लिखा, ‘ऐसी स्थिति में बेसहारा पशुओं की पीड़ा और जरूरतों के प्रति संवेदनशील होना और उनके कल्याण के लिए व्यक्तिगत स्तर पर पूरी क्षमता के साथ काम करना आपके लिए काबिले तारीफ है।’ पीएम ने अपने पत्र में इस बात का भी जिक्र किया कि, इस कठिन समय में कई ऐसे उदाहरण देखे गए हैं जिन्होंने हमें मानवता पर गर्व महसूस करने का कारण दिया है। उन्होंने आशा व्यक्त की कि मेजर प्रमिला और उनके पिता अपनी पहल से समाज में जागरूकता फैलाकर अपने काम से लोगों को प्रेरित करते रहेंगे।

मेजर ने पीएम को लिखा था पत्र

इससे पहले मेजर प्रमिला सिंह ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर बताया था कि जानवरों की देखभाल करने का जो काम उन्होंने लॉकडाउन के समय शुरू किया था वह आज तक जारी है। उन्होंने पत्र में असहाय जानवरों की पीड़ा व्यक्त करते हुए समाज के ज्यादा से ज्यादा लोगों को इनकी मदद के लिए आगे आने की अपील की है।

 

Related posts