शिवलिंग जैसा छत, 186 करोड़ है लागत, कुछ ऐसा है काशी का ‘रुद्राक्ष कंवेंशन सेंटर’

चैतन्य भारत न्यूज

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज यानी गुरुवार को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के दौरे पर हैं। उन्होंने काशी की जनता को रुद्राक्ष कंवेंशन सेंटर समर्पित कर दिया है। रुद्राक्ष कंवेंशन सेंटर भारत और जापान की दोस्ती को और मजबूती प्रदान करेगा। पूर्व जापानी पीएम शिंजो आबे ने गंगा की सौगंध लेकर बनारस में अपने मजबूत रिश्तों की सुनहरी इबारत लिखी थी। काशी और जापान की कला संस्कृति का प्रतीक रुद्राक्ष दुनिया के सामने नित नए आयाम लिखेगा।

शिवलिंग के आकार की है छत

186 करोड़ की लागत से तैयार रुद्राक्ष शिवलिंग के आकार में बनाया गया है। जापानी और भारतीय वास्तु शैलियों का संगम वाले रुद्राक्ष इंटरनेशनल कन्वेंशन सेंटर की डिजाइन जापान की कंपनी ओरिएंटल कंसल्टेंट ग्लोबल ने तैयारी की है। निर्माण का काम भी जापान की ही फुजिता कॉरपोरेशन कंपनी ने किया है। यहां बड़े म्यूजिक कॉन्सर्ट, कांफ्रेंस, नाटक हो सकेंगे और प्रदर्शनियां भी लगेंगी।

लगाए गए हैं 108 रुद्राक्ष

पीएम मोदी सिगरा नगर निगम के पास जापान के सहयोग से बने रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर के कार्यक्रम में भी हिस्सा लेंगे। यहां पीएम मोदी जापानी डेलीगेट के साथ मुलाकात करके रुद्राक्ष का पेड़ भी लगाएंगे। अंतरराष्ट्रीय सहयोग एवं सम्मेलन केंद्र ‘रुद्राक्ष’ प्राचीन शहर काशी की सांस्कृतिक समृद्धि की झलक प्रस्तुत करेगा। अधिकारियों ने बताया कि इस सम्मेलन केंद्र में 108 रुद्राक्ष लगाए गए हैं और इसकी छत शिवलिंग के आकार में बनाई गई है। यह दो मंजिला केंद्र सिगरा क्षेत्र में 2।87 हेक्टेयर जमीन पर बनाया गया है और इसमें 1,200 लोगों के बैठने की व्यवस्था है।

पेंटिंग्स से सजाया गया गलियारा

जानकारी के मुताबिक, ‘रुद्राक्ष’ केंद्र का उद्देश्य लोगों को सामाजिक और सांस्कृतिक संवाद के अवसर प्रदान करना है। यहां अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन, प्रदर्शनी, संगीत समारोहों और अन्य कार्यक्रम हो सकेंगे। इसके गलियारे को अलग-अलग तरह की पेंटिंग्स से सजाया गया है। इसकी खासियत यह भी है कि इसे जरूरत पड़ने पर छोटे स्थानों में बांटा किया जा सकता है।

ये लोग रहेंगे मौजूद

प्रधानमंत्री मोदी आज दोपहर दो बजे रुद्राक्ष कंवेंशन सेंटर पहुंचेंगे। सेंटर पर प्रधानमंत्री एक घंटे रहेंगे। उनके साथ जापान के राजदूत सतोषी सुजुकी, राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मौजूद होंगे। कंवेंशन सेंटर पहुंचते ही सबसे पहले प्रधानमंत्री परिसर में एक पौधा लगाएंगे। पौधरोपण के बाद उनके द्वारा रिबन काटकर सेंटर का उद्घाटन किया जाएगा। इसके बाद प्रधानमंत्री शिलापट्ट का अनावरण कर रुद्राक्ष को देश को समर्पित कर अपना संबोधन करेंगे। इस दौरान मुख्यमंत्री के द्वारा प्रधानमंत्री को स्मृति चिह्न भेंट किया जाएगा।

Related posts