पूजा के दौरान डेढ़ लाख का मंगलसूत्र निगल गया बैल, 8 दिन तक गोबर में खोजता रहा मालिक, और फिर…

pola festival

चैतन्य भारत न्यूज

अहमदनगर. महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ सहित देश के कई राज्यों में पोला त्योहार धूमधाम से मनाया जाता है। इस त्योहार में बैलों को सजाकर उन्हें हर गली में घुमाया जाता है और फिर उनकी पूजा की जाती है। लोग बैलों की पूजा करते समय उन्हें कई तरह की चीजें खिलाते हैं। इस दौरान एक बैल ने डेढ़ लाख का मंगलसूत्र निगल लिया।


बता दें बैल की पूजा करते समय घर के सदस्य अपनी सोने की चीजों को इकट्ठा करते हैं और फिर उन्हें बैल के सिर से लगाकर दुआ मांगते हैं। दरअसल, महाराष्ट्र के अहमदनगर के एक गांव में किसान बाबूराव शिंदे की पत्नी ने पोला के दिन अपने बैल को सजाकर उसे पूरे गांव में घुमाया और फिर घर पर उसकी पूजा की। उन्होंने पूजा के समय थाली में 4 तोले का मंगलसूत्र और मिठाई रखी थी। इस दौरान बिजली चली गई तो महिला घर के अंदर मोमबत्ती लेने चली गईं। इतने में बैल मिठाई के साथ उनका मंगलसूत्र भी खा गया।

जब पत्नी ने यह बात किसान को बताई तो पूरे परिवार ने बहुत प्रयास किए और बैल का मुंह भी टटोला लेकिन तब तक मंगलसूत्र बैल के पेट में पहुंच चुका था। फिर किसान और उसकी पत्नी ने इंतजार किया कि हो सकता है गोबर में मंगलसूत्र निकले। इसके लिए उन्होंने करीब आठ दिन तक बैल के गोबर में मंगलसूत्र खोजा लेकिन मंगलसूत्र नहीं मिला। फिर आखिरकार उन्होंने एक पशु चिकित्सक बुलाकर 9 सितंबर को उसका ऑपरेशन करवाया और उसके पेट से सही सलामत मंगलसूत्र बाहर निकाला। डॉक्टर ने बताया कि, मंगलसूत्र बैल के रेटिकुलम में फंसा हुआ था। फिलहाल बैल की हालत स्थिर है और उसकी देखभाल की जा रही है।

ये भी पढ़े…

इस भैंस के गर्भवती होने पर पूरा छत्तीसगढ़ मना रहा है जश्न, जानिए वजह

भूख लगी तो कुत्ता खा गया 14 हजार रुपए, इलाज के लिए मालिक ने खर्च कर दी इतनी रकम

डॉगी के थे पड़ोस के कुत्ते से अवैध संबंध तो मालिक ने घर से निकाला

Related posts