राष्ट्रपति कोविंद ने बताए मोदी सरकार के आगामी 5 साल के लक्ष्य, राष्ट्रीय सुरक्षा, रोजगार, किसान, शिक्षा, नौकरी, आतंकवाद समेत कई मुद्दों का किया जिक्र

ramnath kovind,narendra modi,sansad

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. सोमवार और मंगलवार को सभी नवनिर्वाचित सांसदों ने शपथ ग्रहण की। इसके बाद गुरुवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने संसद के दोनों सदनों के संयुक्त सत्र को संबोधित किया। राष्ट्रपति ने मोदी सरकार की पिछली उपलब्धियों का जिक्र किया साथ ही आने वाले समय में देश के विकास और नए भारत के लिए निर्धारित किए गए लक्ष्यों के बारे में बताया। सदन में इस दौरान लोकसभा और राज्यसभा के सभी सदस्य मौजूद थे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू, लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला ने राष्ट्रपति कोविंद का स्वागत किया। अपने भाषण में राष्ट्रपति ने देश का विकास और नीति समेत और भी कई बड़े मुद्दों का जिक्र किया। इसके अलावा उन्होंने नई सरकार को भी बधाई दी।

  • राष्ट्रपति ने कहा कि 61 करोड़ से ज्यादा मतदाताओं ने लोकतंत्र का सम्मान किया है। उन्होंने गर्मी में भी अपना कीमती वोट दिया। इस बार महिलाओं ने भी बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। लोकसभा के नए अध्यक्ष को उनके चयन और चुनाव आयोग को सफलतापूर्वक चुनाव कराने के लिए बधाई।
  • इस बार लोकसभा में करीब आधे सांसद पहली बार निर्वाचित हुए हैं। इस बार 78 महिला सांसदों का चुना गया है जो लोकसभा के इतिहास में बड़ी संख्या है और यह नए भारत की तस्वीर प्रस्तुत करता है। सदन में इस बार हर प्रोफेशन के लोग आए हैं।
  • सरकार बिना किसी भेदभाव के विकास कार्यों को आगे बढ़ा रही है। देशवासियों ने काफी लंबे समय तक मूलभूत सुविधाओं के लिए इंतजार किया लेकिन अब स्थिति बदली है। देशभर में 2014 से पहले निराशा का माहौल था, लेकिन अब हमारी सरकार ने राष्ट्रनिर्माण के लिए कदम बढ़ाएं हैं। मेरी सरकार सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास की नीति के साथ आगे बढ़ रही है।
  • 30 मई को शपथ लेने के तुरंत बाद सरकार नए भारत के निर्माण में जुट गई थी। जल्द ही भारत में युवाओं के सपने पूरे होंगे, उद्योग को ऊंचाईयां मिलेंगी और 21वीं सदी के लिए इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार किया जाएगा। 21 दिन के कार्यकाल में ही मेरी सरकार ने किसान, जवान के लिए बड़े फैसले किए हैं।
  • देश के अन्नदाता किसानों को पीएम किसान योजना के तहत मदद दी जाएगी। साथ ही किसानों के लिए पेंशन योजना भी लागू की जा रही है। इसके अलावा किसी सरकार ने पहली बार छोटे दुकानदारों के लिए पेंशन की योजना शुरू की गई है। इससे 3 करोड़ दुकानदारों को लाभ मिलेगा।
  • देश की सुरक्षा में जुटे जवानों के लिए भी सरकार लगातार फैसले ले रही है। सरकार ने जवानों के बच्चों को मिलने वाली स्कॉलरशिप में बढ़ोतरी की गई है। पहली बार राज्य पुलिस के जवानों के बेटे-बेटियों को भी शामिल किया गया है।
  • जल संकट को देखते हुए पहली बार भारत सरकार ने जल शक्ति मंत्रालय का निर्माण किया है। क्लाइमेट चेंज, ग्लोबल वार्मिंग को देखते हुए देश में स्वच्छ भारत की तरह ही जल संरक्षण के लिए आंदोलन चलाया जाएगा।
  • सरकार मुस्लिम महिलाओं की सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध है। इसी के लिए तीन तलाक जैसी प्रथा को खत्म किया जा रहा है, इसके लिए कानून बनाने की तैयारी है। आप सभी इस कदम में सरकार का साथ दें। तीन तलाक और हलाला जैसी प्रथाओं का खत्म होना जरूरी है।
  • सरकार का लक्ष्य है कि 2022 तक सभी किसानों की आय दोगुनी की जाए। इसके लिए हम दशकों से रुकी हुई सिचाईं योजना को पूरा कर रहे हैं, मतस्य पालन को बढ़ा रहे हैं। किसानों को आधुनिक खेती को लेकर शिक्षित कर रहे हैं, हम ब्लू क्रांति लाने के लिए प्रतिबद्ध हैं।
  • ग्रामीण भारत को मजबूत बनाने के लिए बड़े पैमाने पर निवेश किया गया है। कृषि क्षेत्र की उत्पादकता को बढ़ाने के लिए, आने वाले वर्षों में 25 लाख करोड़ रुपए का और निवेश किया जाएगा। अभी तक किसानों के पास मदद के तौर पर 12 हजार करोड़ रुपये की राशि पहुंचाई जा चुकी है।
  • सरकार जन धन योजना को आगे बढ़ा रही है, अब हर गरीब के घर तक बैंक को पहुंचाया जा रहा है। हमारा लक्ष्य है कि डाकियों को ही अब चलता फिरता बैंक बनाया जाए।
  • सरकार द्वारा सामान्य वर्ग के गरीब युवाओं के लिए 10 प्रतिशत आरक्षण का प्रावधान किया गया है। इससे उन्हें नियुक्ति तथा शिक्षा के क्षेत्र में और अवसर प्राप्त हो सकेंगे।
  • गरीब परिवारों को इलाज के खर्च से बचाने के लिए 50 करोड़ गरीबों के लिए आयुष्मान भारत योजना लागू की गई है। इस योजना के तहत अभी तक 26 लाख गरीब मरीजों का इलाज कराया जा चुका है। देश में 5 हजार से अधिक जन औषधि केंद्र खोले जा चुके हैं, यहां गरीबों के लिए सस्ती दवाई उपलब्ध हैं।
  • महिला सशक्तिकरण, मेरी सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकताओं में से एक है। नारी का सबल होना तथा समाज और अर्थ-व्यवस्था में उनकी प्रभावी भागीदारी, एक विकसित समाज की कसौटी होती है।
  • सरकार की यह सोच है कि न केवल महिलाओं का विकास हो, बल्कि महिलाओं के नेतृत्व में विकास हो।
  • मुद्रा योजना के तहत अभी तक 19 करोड़ लोन दिए जा चुके हैं, नई सरकार का लक्ष्य 30 करोड़ लोगों को लोन देने का है। ताकि रोजगार बढ़ाया जा सके।
  • भारत विश्व की सबसे देश बढ़ती हुई अर्थव्यवस्था है। महंगाई कम है, जीडीपी बढ़ रही है, विदेशी मुद्रा का भंडार बढ़ रहा है। हमारा लक्ष्य 2024 तक भारत पांच ट्रिलियन की इकॉनोमी बने। जल्द ही नई औद्योगिक नीति का ऐलान भी किया जाएगा।
  • 50 करोड़ गरीबों को ‘स्वास्थ्य – सुरक्षा – कवच’ प्रदान करने वाली विश्व की सबसे बड़ी हेल्थ केयर स्कीम ‘आयुष्मान भारत योजना’ लागू की गई है।
  • ग्रामीण भारत को मजबूत बनाने के लिए बड़े पैमाने पर निवेश किया गया है। कृषि क्षेत्र की उत्पादकता को बढ़ाने के लिए, आने वाले वर्षों में 25 लाख करोड़ रुपए का और निवेश किया जाएगा।
  • काले धन के खिलाफ शुरू की गई मुहिम को और तेज गति से आगे बढ़ाया जाएगा। पिछले 2 वर्ष में, 4 लाख 25 हजार निदेशकों को अयोग्य घोषित किया गया है और 3 लाख 50 हजार संदिग्ध कंपनियों का रजिस्ट्रेशन रद्द किया जा चुका है।
  • जीएसटी के लागू होने से ‘एक देश, एक टैक्स, एक बाजार’ की सोच साकार हुई है। जीएसटी को और सरल बनाने के प्रयास जारी रहेंगे।
  • आज भारत दुनिया के सबसे अधिक स्टार्ट-अप वाले देशों में शामिल हो गया है। आज भारत विश्व की सबसे तेजी से विकसित हो रही अर्थ-व्यवस्थाओं में से एक है।
  • नया भारत गुरुदेव रवींद्रनाथ टैगोर के दिखाए रास्तों पर चलेगा। नये भारत में ग्रामीण और शहरी भारत दोनों का विकास और पारदर्शी व्यवस्थाव बनाने की ओर अग्रसर होगा।
  • आतंकवाद के खिलाफ भी सरकार बड़े कदम उठा रही है। आतंकवाद के मुद्दे पर दुनिया भारत के साथ खड़ी है, यही कारण है कि आतंकी आका मसूद अजहर को संयुक्त राष्ट्र ने भी ग्लोबल आतंकी घोषित किया है. सीमा के पार पहले सर्जिकल स्ट्राइक, फिर एयरस्ट्राइक करके भारत ने अपने इरादों को दर्शा दिया है। भविष्य में सरकार द्वारा ऐसे ही कदम उठाए जाएंगे।

Related posts