VIDEO: महिला कर रही थी तमिल में शिकायत, राहुल को समझ में नहीं आई, कांग्रेसी CM बोले- वो मेरी तारीफ कर रही है…

चैतन्य भारत न्यूज

पुडुचेरी में चल रहे सियासी घमासान के बीच राहुल गांधी ने बुधवार को पुडुचेरी का दौरा किया। वे सोलई नगर क्षेत्र में मछली पकड़ने वाले समुदाय और एक गर्ल्स कॉलेज की छात्रों से मिले। इस दौरान पुडुचेरी के मुख्यमंत्री वी. नारायणस्वामी भी राहुल के साथ मौजूद रहे। मछुआरों से मुलाकात के दौरान एक ऐसा वाकया हुआ जो काफी मजेदार है। राहुल से जब मछुआरा समुदाय की महिला ने मुख्यमंत्री वी नारायणस्वामी की शिकायत की तो नारायणसामी ने राहुल को शिकायत को अपनी तारीफ बता दिया। इसका एक वीडियो भी बीजेपी नेता सी. टी. रवि ने ट्वीट किया है।

सी. टी. रवि ने ट्वीट किया, ‘कांग्रेस के नेता झूठ बोलने में राहुल गांधी के साथ प्रतिस्पर्धा करते दिख रहे हैं! तमिल में बुजुर्ग महिला: सरकार ने चक्रवात के दौरान हमारी मदद नहीं की। पुडुचेरी के सीएम नारायणस्वामी से लेकर राहुल: चक्रवात के दौरान उनसे मिलने और राहत प्रदान करने के लिए वह मुझे धन्यवाद दे रहे हैं।’


दरअसल तमिल में बोल रही इस महिला ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल से नारायणस्वामी की शिकायत करते हुए कहा कि, ‘हम समंदर के पास रहते हैं। समंदर का इलाका जैसा था वैसा ही है। हमारी किसी ने कोई मदद ही नहीं की। पूछिए इनसे, नजदीक रहते हुए भी तूफान के बाद देखने के लिए आए थे क्या?’ राहुल को तमिल भाषा समझ नहीं आई तो तुरंत ही अपनी शिकायत को नारायणसामी ने राहुल के सामने तारीफ बनाकर पेश कर दिया। नारायणसामी ने राहुल गांधी से यह कह दिया कि तूफान में हमने जो रिलीफ दिया है महिला उसका ज़िक्र कर धन्यवाद कर रही है। ऐसे में मुख्यमंत्री ने तो राहुल के तमिल ना समझने का खुल कर फायदा उठा लिया। उन्होंने कहा कि वो कह रही हैं कि निवार तूफान के वक्त मैं उनके इलाके में गया था और उनकी मदद की।

संकट में कांग्रेस

बता दें कि मुख्यमंत्री वी. नारायणस्वामी के करीबी सहयोगी ए. जॉन कुमार ने मंगलवार को पार्टी से इस्तीफा दे दिया था. उन्होंने कांग्रेस सरकार से असंतोष का हवाला देते हुए इस्तीफा दिया. इस इस्तीफे के साथ ही कांग्रेस अब यहां सत्ता खोने के कगार पर पहुंच गई है. ए. जॉन कुमार ने विधान सभा अध्यक्ष वी. पी. शिवकोझुन्थु को विधान सभा में अपना इस्तीफा सौंप दिया, इसके एक दिन पहले पुडुचेरी के मंत्री मल्लद कृष्ण राव ने अपना इस्तीफा दे दिया था. 30 विधायकों वाली पुडुचेरी असेंबली में नारायणसामी के पास चार विधायकों के इस्तीफे के बाद सिर्फ 10 विधायक बचे हैं. ऐसे में उनकी सरकार अल्पमत में है. उधर किरण बेदी को भी उपराज्यपाल के पर से मुक्त कर तेलंगाना की राज्यपाल तमिलिसई सौंदराजन को एडिशनल जिम्मेदारी दी गई है.

Related posts