इस बार पुष्य नक्षत्र पर बन रहा विशेष संयोग, इस शुभ मुहूर्त में करें खरीददारी, मिलेगा लाभ

pushya nakshatra,pushya nakshatra 2019, pushya nakshatra ka mahatv,pushya nakshatra sanyog,pushya nakshatra shubh muhurat

चैतन्य भारत न्यूज

दीपावली के पहले जो पुष्य नक्षत्र आता है वह अत्यंत शुभ माना जाता है। पुष्य नक्षत्र शनिवार सुबह 8.05 से शुरू होगा, जो अगले दिन सुबह 8.46 तक रहेगा। पुष्य नक्षत्र के स्वामी शनि है। पुष्य नक्षत्र के दिन सोना, चांदी, वाहन, घर एवं दुकान खरीदना शुभ माना जाता है। इस बार पुष्य नक्षत्र पर खास संयोग बन रहा है जो शुभ फल देने वाला है। आइए जानते हैं पुष्य नक्षत्र के इस संयोग और शुभ मुहूर्त के बारे में।



pushya nakshatra,pushya nakshatra 2019, pushya nakshatra ka mahatv,pushya nakshatra sanyog,pushya nakshatra shubh muhurat

पुष्य नक्षत्र विशेष संयोग

दीपावली से पहले खरीदी के लिए 7 नवंबर को पुष्य नक्षत्र के साथ 3 शुभ योग और बन रहे हैं। इस दिन सुबह से देर रात तक खरीदी की जा सकेगी। इसके लिए शनिवार को रात 12 बजे तक 7 शुभ मुहूर्त रहेंगे। पुष्य नक्षत्र का अबूझ मुहूर्त इसलिए भी खास बन गया है, क्योंकि इसी दिन सूर्य-चंद्रमा की स्थिति से शुभ और रवियोग बन रहा है। साथ ही शनिवार और पुष्य नक्षत्र के संयोग से मित्र भी रहेगा। सितारों की इस स्थिति से खरीदारी का पर्व और भी खास हो गया है।

pushya nakshatra,pushya nakshatra 2019, pushya nakshatra ka mahatv,pushya nakshatra sanyog,pushya nakshatra shubh muhurat

ये चीजें खरीदना होती है शुभ 

इस वर्ष दिवाली से पहले दो दिन पुष्य नक्षत्र होने से इसका महत्व कई गुना अधिक बढ़ जाएगा। सोमवार (21 अक्टूबर) व मंगलवार (22 अक्टूबर) नक्षत्र विशेष फलदायी होते हैं। सोमवार के दिन सोना, चांदी, पुस्तक, बहीखाते व धार्मिक वस्तुएं ले सकते हैं और मंगलवार को मकान, सजावट की वस्तुएं, सोफा, वाहन आदि की खरीददारी कर सकते हैं।

pushya nakshatra,pushya nakshatra 2019, pushya nakshatra ka mahatv,pushya nakshatra sanyog,pushya nakshatra shubh muhurat

पुष्य नक्षत्र शुभ मुहूर्त

सुबह 8:10 से 9:25 -वाहन, घरेलू चीजें, तांबे के बर्तन, चल संपत्ति
दोपहर 12:10 से 1:25 -आभूषण, घर की जरूरत का सामान, वाहन
दोपहर 1:26 से 2:45 -चल-अचल संपत्ति, बचत और निवेश
दोपहर 2:46 से 4:10 -कपड़े, मिठाइयां आभूषण, वाहन, प्रॉपर्टी
शाम 5:35 से 7:10 -सोना, चांदी, तांबे के बर्तन, रत्नाभूषण
रात 8:45 से 10:25 -सोने-चांदी के आभूषण, बहीखाता
रात 10:26 से 12:00 -बहीखाते, कम्प्यूटर, स्टेशनरी व इलेक्ट्रॉनिक्स

ये भी पढ़े…

दिवाली से पहले इन 9 चीजों को घर लाने से होगा लाभ

इस बार दिवाली पर बन रहा है शुभ संयोग, जानिए मां लक्ष्मी की पूजा का मुहूर्त

इस बार अयोध्या में होगी सबसे भव्य दिवाली, 3.21 लाख दीप जलेंगे, नया वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने की तैयारी

Related posts