राहुल का मोदी सरकार पर हमला- हिन्दुस्तान ऐसा देश है जो कोरोना के मामले बढ़ते वक्त लॉकडाउन बंद कर रहा है

rahul gandhi pm modi

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. कांग्रेस राहुल गांधी ने मंगलवार को चौथी बार वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पत्रकारों से बातचीत की। इस दौरान उन्होंने फिर मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा। राहुल ने कहा कि, लॉकडाउन पूरी तरह से फेल हो रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उम्मीद थी कि कोरोना 21 दिन में नियंत्रित हो जाएगा लेकिन ऐसा नहीं हुआ।


राहुल गांधी ने कहा कि, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि हम कोरोना से 21 दिनों की जंग लड़ने जा रहे हैं। आज 60 दिन हो गए हैं लेकिन हम इकलौते ऐसे देश हैं जहां वायरस तेजी से बढ़ रहा है। हिन्दुस्तान ऐसा देश है जो कोरोना के मामले बढ़ते वक्त लॉकडाउन बंद कर रहा है। यह बात स्पष्ट है कि लॉकडाउन फेल हुआ है। जो लक्ष्य नरेंद्र मोदी जी का था, वह पूरा नहीं है। हम बहुत आदर से सरकार से पूछना चाहते हैं कि अब आपका प्लान बी क्या है?’

राहुल ने चीन और नेपाल के साथ सीमा विवाद को लेकर भी सरकार को घेरा। राहुल ने कहा कि, सीमा विवाद पर सरकार का रुख साफ नहीं है और उसे देश को बताना चाहिए कि सच क्या है, नेपाल में क्या हुआ, ऐसा क्यों हो रहा है? लद्दाख में क्या हो रहा है? इन मामलों में पारदर्शिता होनी चाहिए। हमें मालूम होना चाहिए कि क्या हो रहा है।


राहुल गांधी ने कहा कि जहां हमारी सरकार है हम वहां लोगों को नकद मुहैया करा रहे हैं लेकिन केंद्र से हमें कोई मदद नहीं मिली। राहुल ने कहा कि हमारी पार्टी की सरकारों के पास प्रवासियों को प्रबंधित करने, राज्यों में जांच बढ़ाने की रणनीति है लेकिन बिना केंद्र की मदद के वह अकेले सब कुछ नहीं कर सकते।

महामारी से पहले देश और इसके बाद में बेरोजगारी के प्रतिशत में दर्ज किये गये उछाल के सवाल के जवाब में राहुल ने कहा कि हमें इकॉनमी और स्वास्थ्य के बीच एक रास्ता बनाना होगा ताकि दोनों सुचारु रूप से चल सके।बतौर राष्ट्रीय नेता मुझे यह कहते हुए काफी दुख हो रहा है कि हमारी कई कंपनियां बंद हो जाएंगी। बैंककरप्ट हो जाएंगी। लोग बड़ी संख्या में बेरोजगार हो रहे हैं। जरूरी है कि सरकार इकॉनमी और हेल्थकेयर दोनों पर एक समान काम करे।

गौरतलब है कि अब तक देश में कोरोना वायरस के संक्रमितों की संख्या 145380 पहुंची है, जिनमें से 4167 लोगों की मौत हुई है और 60490 लोग ठीक हो चुके हैं। वहीं विश्व स्तर की बात करें तो दुनियाभर में कोरोना वायरस के मरीजों की सख्या 55 लाख पार कर चुकी है।

Related posts