पीएम मोदी ने रीवा सौर ऊर्जा परियोजना को एशिया में सबसे बड़ी बताया, राहुल बोले- असत्याग्रही

pm modi rahul gandhi

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मध्यप्रदेश के रीवा में 750 मेगावॉट की सौर ऊर्जा परियोजना का वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए शुभारंभ किया। पीएम मोदी ने इस सौर ऊर्जा परियोजना को एशिया की सबसे बड़ी परियोजना बताया है जिसे लेकर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम पर निशाना साधा है।

राहुल ने प्रधानमंत्री कार्यालय के एक ट्वीट को रीट्वीट करते हुए कहा, ‘असत्याग्रही!’। पीएम मोदी ने इस परियोजना का शुभारंभ करने के बाद कहा था कि, ‘आज रीवा ने वाकई इतिहास रच दिया है। रीवा की पहचान मां नर्मदा के नाम से और सफेद बाघ से रही है। अब इसमें एशिया के सबसे बड़े सोलर पावर प्रोजेक्ट का नाम भी जुड़ गया है।’ इसी बात पर राहुल ने पीएम मोदी को असत्याग्रही कह दिया।


बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी ने शुक्रवार को मध्यप्रदेश के रीवा में 750 मेगावाट की सौर ऊर्जा परियोजना का वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए शुभारंभ करते हुए कहा था, ‘रीवा का यह सौर ऊर्जा संयंत्र इस पूरे क्षेत्र को इस दशक में ऊर्जा का बहुत बड़ा केंद्र बनाने में मदद करेगा।’ आज रीवा ने वाकई इतिहास रच दिया है। रीवा की पहचान मां नर्मदा के नाम से और सफेद बाघ से रही है। अब इसमें एशिया की सबसे बड़ी सौर ऊर्जा परियोजना का नाम भी जुड़ गया है।’

अपने संबोधन में प्रधानमंत्री ने कहा था कि, ‘ये तमाम प्रोजेक्ट जब तैयार हो जाएंगे, तो मध्यप्रदेश निश्चित रूप से सस्ती और साफ-सुथरी बिजली का हब बन जाएगा। इसका सबसे अधिक लाभ मध्यप्रदेश के गरीब, मध्यम वर्ग के परिवारों, किसानों, आदिवासियों को होगा। सौर ऊर्जा आज की ही नहीं, बल्कि 21वीं सदी की ऊर्जा जरूरतों का एक बड़ा माध्यम होने वाला है। क्योंकि सौर ऊर्जा, श्योर है, प्योर है और सिक्योर है।’

ये भी पढ़े…

जन्मदिन विशेष : सुरक्षा के कारण नाम बदलकर काम करते थे राहुल गांधी, 3 साल नौकरी के बाद ली राजनीति में एंट्री

राहुल गांधी से बातचीत के दौरान उद्योगपति बजाज ने की मोदी सरकार की कड़ी आलोचना, राहुल ने भी दिया साथ

नियमितीकरण की मांग: धरने पर बैठी महिला ने कराया मुंडन, राहुल गांधी को भेजे बाल

Related posts