राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर साधा निशाना, बोले ‘शी’ से डरते हैं मोदी, भाजपा ने किया पलटवार

चैतन्य भारत न्यूज।

नई दिल्ली। जैश सरगना आतंकी मसूद अजहर को चीन ने एक बार फिर ग्लोबल आतंकी घोषित होने से बचा लिया है। चीन ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में मसूद अहजर के खिलाफ सबूतों के अभाव की बात कहते हुए अपने वीटो पावर का प्रयोग किया और चौथी बार अडंगा लगाया। इस बीच कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर निशाना साधा है।

राहुुल गांधी बोले, मोदी ‘शी’ से डरते हैं

राहुल गांधी ने ट्वीट किया, ”कमजोर मोदी ‘शी’ (चीनी राष्ट्रपति) से डरते हैं, चीन जब भारत के खिलाफ काम करता है तो उनके मुंह से एक शब्द नहीं निकला। ‘नोमो’ की चीन कूटनीति, गुजरात में शी के साथ झूला झूले। दिल्ली में शी को गले लगाया। चीन में शी के सामने झुके।”

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने किया पलटलवार

वहीं राहुल गांघी के इस ट्वीट पर भाजपा ने भी पलटवार किया है। केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के ट्वीट पर पर कहा ”राहुल गांधी से मेरा सवाल है कि 2009 में यूपीए के समय में भी चीन ने मसूद अजहर पर यही टेक्निकल ऑब्जेक्शन लगाया था, तब भी आपने ऐसा ट्वीट किया था क्या? उन्होंने आगे कहा, ”चीन UNSC का हिस्सा ही नहीं होता अगर आपके ग्रेट ग्रैंडफादर चीन को ये सीट तोहफे में ना देते।”

रविशंकर प्रसाद ने कहा, ”क्या मसूद अजहर जैसे नृशंस हत्यारे के मामले में कांग्रेस का स्वर दूसरा होगा? राहुल गांधी के ट्वीट से ऐसा लगता है कि उन्हें इस बात से खुशी है, भारत को जब भी पीड़ा होती है तो राहुल खुश क्यों होते हैं।

उन्होंने  कहा, ”आतंकवादी मसूद अजहर को ग्लोबल आतंकी घोषित करने के लिए इस बार प्रस्ताव अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस लेकर आए, चीन को छोड़कर बाकी सभी देशों ने इस प्रस्ताव को सपोर्ट किया। चीन के इस कदम से भारत और भारतवासी बहुत दुखी हैं।आतंकवादी मसूद अजहर को ग्लोबल आतंकी घोषित करने पर आज चीन को छोड़कर पूरी दुनिया भारत के साथ खड़ी है। ये एक तरह से भारत की कूटनीतिक जीत है।”

अमेरिका ने कहा…

अमेरिका ने चीन को साफ-साफ शब्दों में कहा है कि चीन ने चौथी बार मसूद अजहर को ग्लोबल आतंकी घोषित करने में अड़ंगा लगाया है। चीन ऐसा कर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद को उसका काम करने से रोक रहा है। अमेरिका ने कहा ”एक तरफ चीन दक्षिण एशिया में शांति की बात करता है और दूसरी ओर मसूद को बचाता है, ऐसा कर चीन खुद ही आतंकवाद के सफाए में बाधा बन रहा है’’।

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा मसूद अजहर को हमें सौंप दें इमरान

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ‘इंडियाज वर्ल्ड: मोदी गवर्नमेंट्स फॉरेन पॉलिसी’ कार्यक्रम में कहा कि इमरान अगर वाकई में उदार हैं तो मसूद अजहर को हमें सौंप दें। भारत और पाकिस्तान के रिश्ते उसी शर्त पर सुधर सकते हैं, जब वह अपनी धरती से भारत के खिलाफ आतंकी गतिविधियां बंद करे और आतंकवादियों के खिलाफ ठोस कार्रवाई करे।

ये भी पढ़ें…

जैश सरगना मसूद अजहर को अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी घोषित करने की राह में फिर बाधा बना चीन

 

Related posts