बैतूल में ट्रेन से कटा युवक, 1300 किमी दूर बेंगलुरु में मिला इंजन में फंसा सिर

चैतन्य भारत न्यूज

मध्य प्रदेश के बैतूल से एक चौंका देने वाला मामला सामने आया है। बैतूल रेलवे स्टेशन के पास राजधानी एक्सप्रेस से एक युवक कट गया, उसके शरीर के कई टुकड़े हो गए। हैरानी वाली बात यह है कि उसका सिर 1300 किमी दूर जाकर बेंगलुरु में मिला। इस मामले की जांच बैतूल और बेंगलुरु जीआरपी पुलिस कर रही है।

शरीर के कई टुकड़े हुए

जीआरपी थाने के प्रधान आरक्षक वेदप्रकाश शर्मा ने बताया कि, यह घटना तीन अक्टूबर की है। रवि माचना नामक युवक पुल के पास ट्रेन की चपेट में आ गया था। उसके शरीर के कई टुकड़े हो गए। लेकिन उसका सिर न मिलने से सभी परेशान थे। हालांकि चार अक्टूबर को शव के निशान और कपड़ों से उसकी शिनाख्त रवि के रूप में हो गई थी। परिजनों ने उसका अंतिम संस्कार भी कर दिया था।

 

जानें पूरा मामला

बेंगलुरू में ट्रेन की सफाई के दौरान युवक का सिर इंजन के पिछले हिस्से में फंसा पाया गया जिसके बाद जीआरपी के एसआरपी कार्यालय ने ट्रेन से इस रूट पर कहां-कहां दुर्घटना हुई, इसका ब्यौरा इकट्ठा किया जिसमें बैतूल में दुर्घटना होने की जानकारी सामने आई। फिर 12 अक्टूबर को जीआरपी बेंगलुरु की टीम युवक के सिर की तस्वीर लेकर परिजनों को दिखाने पहुंची जिसके बाद यह पुष्टि हुई कि यह रवि का ही सिर है। आर्थिक स्थिति कमजोर होने के चलते परिवार ने सिर लेने से इनकार कर दिया। अब जीआरपी द्वारा ही युवक का सिर बेंगलुरु में दफन किया जाएगा।

 

Related posts