एयरपोर्ट की तरह अब रेलवे स्टेशनों पर भी देना होगा यूजर चार्ज, जानिए कितना और किन-किन स्टेशनों पर लगेगा

railway station

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. केंद्र सरकार अब एयरपोर्ट की तरह ही रेलवे स्टेशनों पर भी लगेगा यूजर चार्ज लगाने पर विचार कर रही है। जानकारी के मुताबिक, दिल्ली, मुंबई, चेन्नई या हावड़ा जैसे बड़े स्टेशनों पर ही यूजर चार्ज नहीं लगेगा बल्कि बलिया, बस्ती, गोंडा, हाजीपुर, गोमो, डाल्टेनगंज, बरौनी, खगड़िया, जमालपुर, भागलपुर जैसे स्टेशनों पर भी यह चार्ज लग सकता है।

किन स्टेशनों पर लगेगा चार्ज

बताया गया है कि देश में 7000 रेलवे स्टेशन अभी हैं और इसका 10 से 15% करीब 1050 रेलवे स्टेशनों में यूजर चार्ज लगाया जा सकता है। शुरुआत में बड़े शहरों के भीड़भाड़ वाले रेलवे स्टेशन पर यूजर चार्ज लगेगा। एक अहम बैठक में नई दिल्ली और CSTM मुम्बई रेलवे स्टेशनों का कायाकल्प करने को लेकर प्रेजेंटेशन दिया गया है। हालांकि, कितना यूजर चार्ज लगेगा यह नहीं बताया गया है लेकिन यह स्पष्ट कर दिया गया है कि यह शुल्क मामूली होगा। रेलवे के अधिकारियों का कहना है कि पहले बड़े स्टेशनों मतलब कि A1 और A श्रेणी के स्टेशनों पर यूजर चार्ज लगाया जाएगा।

कितने हैं A1 एवं A श्रेणी के स्टेशन

रेल मंत्रालय ने इस समय कमाई के हिसाब से स्टेशनों की श्रेणी तय कर दी है। देश में खूब कमाई करने वाले इस समय 75 स्टेशन हैं। इन्हें A1 स्टेशन का दर्जा हासिल है। इनमें नई दिल्ली, दिल्ली, हावड़ा, सियालदह, लखनउ, वाराणसी, पटना, चंडीगढ़, प्रयागराज आदि स्टेशन शामिल हैं। इनसे थोड़ा कम लेकिन अन्य स्टेशनों से ज्यादा कमाई करने वाले 332 स्टेशन हैं। इन्हें A श्रेणी का स्टेशन कहा जाता है। इनमें बलिया, बस्ती, आजमगढ़, मिर्जापुर, गोंडा, हाजीपुर, गोमो, डाल्टेनगंज, डेहरी आन सोन, गया, आरा, बक्सर, किउल, जमालपुर, दुर्गापुर जैसे स्टेशन शामिल हैं।

दिल्ली-मुंबई रेलवे स्टेशन का होगा कायाकल्प

नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत ने कहा है कि पीपी मॉडल के तहत इन स्टेशनों को वैश्विक स्तर का बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि अपील है कि देश-विदेश की निजी कंपनियां इस बिडिंग प्रोसेस में हिस्सा लें। अमिताभ कांत ने कहा कि नई दिल्ली और मुम्बई रेलवे स्टेशन का पूरी तरह से कायाकल्प हो जाएगा। देश की जीडीपी में 1.5 से 2 फीसदी का योगदान रेलवे कर सकता है और ये संभव भी है। बता दें कि इस बैठक में नई दिल्ली और मुंबई के छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनल रेलवे स्टेशनों का कायाकल्प करने को लेकर प्रजेंटेशन दिया गया।

Related posts