रजनीकांत का ऐलान- नहीं बनाएंगे अपनी राजनीतिक पार्टी, कहा- तबीयत खराब होना भगवान की चेतावनी है

rajinikanth

चैतन्य भारत न्यूज

तमिलनाडु में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले सुपरस्टार रजनीकांत ने बड़ा ऐलान किया है। रजनीकांत ने बयान जारी करते हुए कहा कि वे राजनीति में प्रवेश नहीं करेंगे। इसके लिए उन्होंने स्वास्थ्य कारणों का हवाला दिया है। हालांकि, उन्होंने यह भी कहा कि वे तमिलनाडु के लोगों के लिए काम करते रहेंगे।

रजनीकांत ने अपने बयान में कहा कि, बीते दिनों उनकी तबीयत में जो गिरावट हुई है, वो इसे भगवान की चेतावनी मानते हैं और राजनीतिक पार्टी नहीं बनाने का फैसला करते हैं। वो ऐसा नहीं चाहते हैं कि लोग ये समझें कि उन्हें बलि का बकरा बना दिया गया है। रजनीकांत ने कहा, ‘मुझे यह बताते हुए खेद है कि मैं एक राजनीतिक पार्टी शुरू नहीं करूंगा। यह फैसला भारी दिल से लिया है। अगर मैं लोगों से मिलता हूं और संक्रमित होता हूं, तो जो लोग मेरे साथ रहेंगे उन्हें भी संघर्ष करना पड़ेगा और वह जीवन की शांति के साथ-साथ पैसा भी खो देंगे।’


रजनीकांत ने कहा कि, ‘अपने निर्णय से पीछे हटने पर मुझे आलोचना का शिकार होना पड़ेगा, लेकिन मैं अपने प्रशंसकों को किसी दुविधा की स्थिति में नहीं रखना चाहता। मैं अब वैक्सीन के बाद भी स्वास्थ्य को संभाल पाने में अक्षम हूं। मैं चुनावी राजनीति में उतरे बिना लोगों की सेवा करूंगा। उन्होंने कहा कि वह बिना चुनाव लड़े ही लोगों की सेवा करेंगे। वह बोले, ‘अगर मैं चुनाव लड़ता हूं, तो मैं सोशल मीडिया और टेलीविजन पर प्रचार करके चुनाव नहीं जीत सकता।’

बता दें इस महीने की शुरुआत में रजनीकांत ने कहा था कि, वह जनवरी 2021 में अपनी राजनीतिक पार्टी बनाएंगे। अपनी पार्टी का ऐलान करते हुए रजनीकांत ने स्पष्ट किया था कि उनकी पार्टी तमिलनाडु में 2021 का विधानसभा चुनाव लड़ेगी। लेकिन बीते दिनों जब रजनीकांत हैदराबाद में अपनी फिल्म की शूटिंग कर रहे थे, तब उनकी तबीयत अचानक बिगड़ गई थी। रजनीकांत को इसके बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां बीते दिन ही उन्हें छुट्टी मिली थी।

 

Related posts