‘माता सीता’ के बाद अब ‘प्रभु श्रीराम’ ने किया राजनीति में प्रवेश, भाजपा में हुए शामिल

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. ‘रामायण’ सीरयल के मशहूर अभिनेता अरुण गोविल गुरुवार को भाजपा में शामिल हो गए हैं। बता दें अरुण ‘रामायण’ में भगवान श्री राम की भूमिका में नजर आए थे। अरुण ने कार्यालय में पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। इस दौरान बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव अरुण सिंह मौजूद रहे। पांच राज्यों में जारी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर गोविल का भाजपा में शामिल होना अहम माना जा रहा है।


भाजपा में शामिल होने के बाद अरुण गोविल ने कहा कि, ‘इस समय जो हमारा कर्तव्य है वो करना चाहिए। मुझे राजनीति आज से पहले समझ नही आती थी, लेकिन मोदी जी ने जब से देश को संभाला है तब से देश की परिभाषा ही बदल गई। मेरे दिल दिमाग़ में जो होता है कर देता हूं।’ उन्होंने आगे कहा कि, ‘अब मैं देश के लिए योगदान देना चाहता हूं और इसके लिए हमें एक मंच की जरूरत है और बीजेपी आज सबसे अच्छा मंच है। पहली बार मैंने देखा कि ममता बनर्जी को “जय श्री राम” के नारे से एलर्जी हुई। जय श्री राम केवल एक नारा नहीं है।’

पार्टी में अरुण गोविल की जिम्मेदारी क्या होगी यह अभी साफ नहीं है। लेकिन कयास लगाए जा रहे हैं कि गोविल बीजेपी की सदस्यता लेने के बाद विधानसभा चुनाव भी लड़ सकते हैं। हालांकि इस बारे में पार्टी या खुद गोविल की तरफ से कोई बयान नहीं आया है।

रामायण के ये कलाकार भी राजनीति में कर चुके हैं प्रवेश

गौरतलब है कि अरुण गोविल से पहले ‘रामायण’ के दूसरे भी कलाकार राजनीति में प्रवेश कर चुके हैं। रामायण में ‘सीता’ की भूमिका निभाने वाली दीपिका चिखलिया के अलावा ‘हनुमान’ की भूमिका निभाने वाले दारा सिंह और ‘रावण’ की भूमिका निभाने वाले अरविंद त्रिवेदी भी राजनीति में उतर चुके हैं। दीपिका चिखलिया बीजेपी के टिकट पर दो बार चुनाव भी लड़ चुकी हैं।

Related posts