हाथ चूमकर इलाज करने वाले बाबा की कोरोना वायरस से हुई मौत, 29 भक्तों को प्रसाद के रूप में दे गया संक्रमण

tantrik

चैतन्य भारत न्यूज

रतलाम. झाड़फूंक, टोना-टोटका और अंधविश्वास के जरिए आपकी समस्याएं और बीमारियां दूर करने वाले बाबा आपको कोरोना संकट में यह जानलेवा बीमारी भी दे सकते हैं। ऐसा ही कुछ मध्यप्रदेश के रतलाम में हुआ जहां एक कोरोना से संक्रमित बाबा ने अपने भक्तों को कोरोना भी प्रसाद के रूप में बांट दिया।

29 लोगों को बाबा ने बांटी बीमारी

4 जुन को यहां एक बाबा की कोरोना वायरस से मौत हो गई। प्रशासन ने बाबा के संपर्क में आए लोगों की तलाश कर सभी को क्वारनटीन किया। जब इन सबके सैंपल लेकर जांच के लिए भेजे तो शहर में कोरोना विस्फोट हो गया। इस बाबा ने अपने मरने से पहले 29 लोगों को कोरोना बीमारी बांट दी।

हाथ चूमकर करता था इलाज

यह बाबा रतलाम के नयापुरा में झाड़फूंक करता था। बीमारी के इलाज के तौर पर यह ताबीज देता था। बड़ी संख्या में लोग इस बाबा के पास जाते थे। कभी-कभी तो ये बाबा लोगों का हाथ चूमकर भी उन्हें ठीक करने का दावा करता था।

हॉटस्पॉट बना नयापूरा

फिलहाल बाबा के संपर्क में और जितने भी लोग आए हैं उनकी तलाश की जा रही है। बता दें नयापुरा क्षेत्र रतलाम का हॉटस्पॉट बन चुका है। एक बाबा के कारण शहर में कोरोना फैला तो प्रशासन ने शहर में ऐसे बाबाओं को उठाना शुरू किया। करीब 29 बाबाओं को उठाकर विभिन्न क्वारनटीन सेंटर में भेजा गया है।

Related posts