आरबीआई ने दी आम आदमी को बड़ी सौगात, अब से NEFT और RTGS से पैसे ट्रांसफर करना हुआ मुफ्त

rbi ,reserve bank of india,rtgs,neft

चैतन्य भारत न्यूज

भारतीय रिजर्व बैंक ने बड़े फंड ट्रांसफर के लिए इस्तेमाल होने वाले रियल टाइम ग्रॉस सेटलमेंट (RTGS) और नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर (NEFT) पर लगने वाले शुल्क को हटाने का ऐलान किया है। आरबीआई के इस फैसले के बाद सभी बैंक अपने ग्राहकों के लिए शुल्क दर कम कर सकते हैं।

अब तक आरबीआई आरटीजीएस और एनईएफटी पर शुल्क वसूलता था। ज्यादातर बड़े बैंक 2 लाख रुपए से 5 लाख रुपए तक के आरटीजीएस फंड ट्रांसफर के लिए 25 रुपए तक और टाइम वैरिंग शुल्क लेते थे। वहीं 5 लाख रुपए से ज्यादा फंड ट्रांसफर के लिए 50 रुपए तक और टाइम वैरिंग चार्ज वसूलते हैं। कोई भी व्यक्ति, कंपनी, फर्म अपने बड़े फंड ट्रांसफर आरटीजीएस और एनईएफटी के जरिए ही करती है।

डिजिटल लेन-देन को बढ़ावा देने के मकसद से आरबीआई ने आरटीजीएस और एनईएफटी के माध्यम से होने वाले लेन-देन पर शुल्क नहीं लगाने का निर्णय लिया है। आरबीआई ने बयान में कहा कि, ”बैंकों को भी इसका लाभ अपने ग्राहकों को देना होगा। इस बारे में बैंकों को एक सप्ताह के भीतर दिशानिर्देश जारी किया जाएगा।”

Related posts