व्यवसाय शुरू करने के लिए सरकार देगी 2 से 10 लाख रुपए, साथ में मिलेगी इतने प्रतिशत सब्सिडी

Prime Ministers Rozgar Yojana

चैतन्य भारत न्यूज 

प्रधानमंत्री रोजगार योजना के अंतर्गत सरकार शिक्षित बेरोजगारों युवक/युवतियों को अपना उद्योग धंधा शुरू करने के लिए लोन प्रदान कर रही है। इस योजना के तहत 2 लाख से 10 लाख रुपए तक का लोन मिल सकता है। इस लोन पर सरकार सब्सिडी भी दे रही है। प्रधानमंत्री रोजगार योजना के तहत लिए गए की ब्याज दर भी कम है। दो लाख तक का लोन लेने पर किसी प्रकार की कोई ग्यारंटी भी नहीं देनी पड़ेगी। अगर आप अपनी प्रतिभा के दम पर कोई व्यवसाय शुरू करना चाहते हैं तो आप इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।

सरकार ने इसके लिए कुछ शर्ते भी लागू की हैं जैसे-

  • पति-पत्नी और माता-पिता के साथ आवेदक की वार्षिक आय 1 लाख रुपए से अधिक नहीं होना चाहिए।
  • इस योजना के अंतर्गत सभी प्रकार के व्यवसाय आते हैं।
  • आप खेती के लिए लोन नहीं ले सकते। लेकिन इससे जुड़े व्यवसाय से आपको लोन प्राप्त हो सकता है।
  • कौशल विकास योजना में कम से कम छह महीने प्रशिक्षण लिया हो। सरकारी मान्यता प्राप्त व्यापार संस्थान में प्रशिक्षित उम्मीदवारों को प्राथमिकता दी जाएगी।
  • यह एक सब्सिडी वाली योजना है, इसलिए किसी भी वर्ग व संप्रदाय के पुरुष/महिला इसमें भाग ले सकते हैं। इस योजना की शुरुआत 2 अक्टूबर 1993 से हुई थी। 

इतनी मिलेगी सब्सिडी 

समय-समय पर ब्याज बदलने की जानकारी आपको बैंक से प्राप्त हो जाएगी। इस योजना के तहत आपको 15% तक सब्सिडी मिलेगी। इसके अलावा उत्तर-पूर्वी राज्यों के लिए 15,000 रुपए, स्व-सहायता समूह के लिए 15,000 रुपए प्रति लाभार्थी है। इस योजना का लाभ उठाने के लिए प्रशिक्षण का समय 3 से 7 दिन, व्यापार और सेवा क्षेत्र के लिए 7 से 10 दिन, जबकि औद्योगिक क्षेत्र के लिए 15 से 2 दिन रहेगा।

कितना मिलेगा लोन

इस योजना के तहत अलग-अलग सेक्टर के लिए लोन की राशि निर्धारित है। जैसे कि बिजनेस सेवा सेक्टर के लिए 2 लाख, इंडस्ट्री सेक्टर में 5 लाख, सर्विस सेक्टर में 5 लाख का लोन ले सकते हैं। यदि दो लोग मिलकर व्यवसाय शुरू करना चाहते हैं तो 10 लाख रुपए का लोन भी ले सकते हैं।

यह है पात्रता के नियम

  • आवेदक की उम्र 18 से 35 के बीच होनी चाहिए। महिलाओं, एससी/एसटी, सैनिकों और विकलांगों के लिए 10 साल की छूट है।
  • उत्तर-पूर्वी राज्यों के नागरिकों के लिए 18 से 40 वर्ष है।
  • आवेदक का अपने क्षेत्र में कम से कम 3 वर्ष तक स्थायी निवासी होने का प्रमाणपत्र होना चाहिए।
  • यदि आप 8वीं पास हैं तो भी लोन लेने के लिए हकदार होंगे।
  • आपका किसी सरकारी सब्सिडी योजना का लाभ पहले से न ले रहे हों।

जरुरी दस्तावेज

पासपोर्ट साइज फोटो, शैक्षणिक योग्यता प्रमाण पत्र, उद्यमिता केंद्र से लिए प्रशिक्षण का प्रमाण-पत्र, मासिक या वार्षिक आय का प्रमाण पत्र।

योजना से संबंधित अधिक जानकारी पाने के लिए जिला उद्यमिता केंद्र में संपर्क करें। ऑनलाइन जानकारी लेने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें http://dcmsme.gov.in/schemes/pmry.html

जो लोग ऑनलाइन आवेदन नहीं कर सकते हैं, वे जिला उद्योग केंद्र से फॉर्म लेकर हाथ से भरकर भी जमा करा सकते हैं। इस लिंक से फॉर्म डाउनलोड करें और उसे भरकर अपलोड कर दें।

http://dcmsme.gov.in/publications/forms/pmryform.html

 

Related posts