नास्तिकों की तुलना में ज्यादा खुश रहते हैं धार्मिक लोग : स्टडी

religious people

चैतन्य भारत न्यूज

अगर आप धार्मिक हैं तो खुश हो जाइए क्योंकि एक रिसर्च में यह दावा किया गया है कि जो लोग धार्मिक होते हैं वह नास्तिकों (भगवान को न मानने वाले) की तुलना में ज्यादा खुश रहते हैं। यह दावा प्यू रिसर्च स्टडी में किया गया है।

टीओआई के मुताबिक, रिसर्च में कहा गया कि जो लोग धार्मिक गतिविधियों में भाग लेते हैं, वह बाकी लोगों की अपेक्षा बहुत खुश रहते हैं। रिसर्चर ने दो दर्जन से ज्यादा देशों से डाटा इकट्ठा करने के बाद यह दावा किया है। अभी तक धर्म और खुशी का कोई वैज्ञानिक संबंध साबित नहीं हुआ है। लेकिन रिसर्च में दावा किया गया है कि जो लोग आस्तिक (भगवान को मानने वाले) होते हैं वह भाग्य में भरोसा करते हैं और पूजा-पाठ भी करते हैं। इसलिए वह ज्यादा खुश रहते हैं।

इस रिसर्च के लिए तीन कैटेगरी बनाई गई थीं जिसमें धार्मिक गतिविधियों में हिस्सा लेने वाले, धार्मिक तौर पर बिल्कुल गतिविधि न करने वाले और किसी भी धर्म से नहीं जुड़े लोगों को शामिल किया गया था। सर्वे में अमेरिका के 36 फीसदी धार्मिक लोगों ने बताया कि वह नास्तिकों की तुलना में ज्यादा खुश हैं। ऑस्ट्रेलिया में 32 फीसदी धार्मिक लोगों ने बताया कि वह धर्म को न मानने वालों की तुलना में ज्यादा खुश हैं।

रिसर्च ने यह भी दावा किया कि धार्मिकता को मानने वाले लोगों का जीवनस्तर भी बेहतर है और वो तुलनात्मक रूप से खुश भी हैं।

 

Related posts