पूर्णिया हत्याकांड: खुद के खिलाफ FIR दर्ज होने के बाद तेजस्वी यादव ने की CBI जांच की मांग, सीएम से कहा- गिरफ्तार करिए

tejaswi yadav,tejaswi yadav tweet,rjd

चैतन्य भारत न्यूज

पूर्णिया के आरजेडी नेता शक्ति मलिक की हत्या के मामले में घेरे में आए तेजस्वी यादव ने इस मुद्दे पर आक्रामक रुख अख्तियार कर लिया है। तेजस्वी ने बिहार के सीएम नीतीश कुमार को पत्र लिखकर दो टूक कहा है कि सीएम इस मामले में उनके खिलाफ सीबीआई जांच करवाएं और जरूरत पड़े तो उन्हें गिरफ्तार कर पूछताछ करें।

पूर्णिया के आरजेडी नेता शक्ति मलिक की हत्या के मामले में बैकफुट पर आ गए तेजस्वी ने इस मुद्दे पर आक्रामक रुख अख्तियार कर लिया है। तेजस्वी ने बिहार के सीएम नीतीश कुमार को पत्र लिखकर दो टूक कहा है कि सीएम इस मामले में उनके खिलाफ सीबीआई जांच करवाएं और जरूरत पड़े तो उन्हें गिरफ्तार कर पूछताछ करें।

बता दें कि पूर्णिया के दलित आरजेडी नेता शक्ति मलिक की हत्या के सिलसिले में दर्ज एफआईआर में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव और उनके बड़े भाई तेजप्रताप यादव का भी नाम है।

FIR में तेजस्वी का नाम

बता दें कि पिछले रविवार (4 अक्टूबर) को आरजेडी के अनुसूचित जाति-जनजाति प्रकोष्ठ के पूर्व सचिव शक्ति मलिक की अपराधियों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। मृतक शक्ति की पत्नी खुशबू देवी ने इस मामले में रविवार शाम तेजस्वी यादव, तेजप्रताप यादव और अनिल कुमार साधु समेत 6 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई थी। परिजनों का आरोप है कि ये लोग शक्ति को जान से मारने की धमकी देते थे। वहीं ताजा जानकारी के मुताबिक पुलिस ने इस मामले में 7 लोगों को गिरफ्तार किया है।

पीड़ित परिवार को इंसाफ मिले

इस मामले में तेजस्वी यादव ने कहा है कि वे चाहते हैं कि इस मामले में पीड़ित परिवार को तुरंत न्याय मिले और दूध का दूध और पानी का पानी हो। तेजस्वी ने कहा कि वे आग्रह करते हैं कि इस मामले की राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर की किसी भी एजेंसी अविलंब जांच कराने की अनुशंसा सीएम करें।

मुझे गिरफ्तार भी कर सकते हैं

तेजस्वी ने कहा कि अगर सीएम नीतीश कुमार चाहते हैं तो वे राज्य का गृह मंत्री होने के नाते नामांकन से पहले उन्हें गिरफ्तार कर सकते हैं और पूछताछ के लिए बुला भी सकते हैं।

सीबीआई को सौंपें जांच

तेजस्वी ने सीएम को लिखे पत्र में कहा है कि उन्हें उम्मीद है कि सीएम इस मामले में त्वरित कार्रवाई करेंगे और मामले की जांच की जिम्मेदारी सीबीआई को सौंपने की अनुशंसा करेंगे।

Related posts