सोने का टॉयलेट इस्तेमाल करता था सरकारी अधिकारी, छापा मारने गई टीम देखकर हुई दंग

चैतन्य भारत न्यूज

एक सरकारी अधिकारी अपने घर में सोने के टॉयलेट का इस्तेमाल करता है… आप भी यह सुनकर चौंक गए होंगे लेकिन ऐसा हुआ है रूस में जहां एक ट्रैफिक पुलिस अधिकारी को भ्रष्टाचार और रिश्वत लेने के आरोप में गिरफ्तार किया गया और जब उसके घर की तलाशी ली गई तो जांचकर्ताओं की आंखें फटी रह गईं।

जांच टीम ने जब आरोपी के घर पर छापा मारा तो वो उसकी हवेली, भव्य कमरे, असाधारण सजावट, और यहां तक कि सोने का शौचालय (टॉयलेट) देखकर दंग रह गए। अधिकारियों ने बाद में भ्रष्टाचार से अर्जित की गई सभी संपत्तियों की फुटेज भी जारी की।

दरअसल रूस की जांच समिति ने दक्षिणी क्षेत्र स्टावरोपोल में पुलिस अधिकारी एलेक्सी सफोनोव और छह अन्य लोगों को भ्रष्टाचार के मामले में गिरफ्तार किया था। इन लोगों को एक आपराधिक गिरोह को परमिट जारी करने के बदले पैसे लेने के संदेह में गिरफ्तार किया गया था।

अधिकारियों ने सफोनोव की हवेली पर जब छापा मारा तो वहां से सोने के टॉयलेट समेत कई चीजें मिलीं। घर की सजावट ऐसी थी कि लगता था ये किसी राजा का घर हो।

स्काई न्यूज के मुताबिक एलेक्सी सफोनोव पर आपराधिक गिरोह को रिश्वत के बदले अनाज कार्गो ट्रांसपोर्ट परमिट जारी किया था। परमिट की वजह से ट्रांसपोर्टर आराम से पुलिस चौकियों को पार कर गए और उनकी कोई चेकिंग भी नहीं हुई।

रूस की जांच समिति, जो मोटे तौर पर अमेरिका में एफबीआई के बराबर है, ने कहा कि अधिकारी और उनके साथ गिरफ्तार किए गए अन्य लोगों को 19 मिलियन रूबल (£ 187,568) यानी की 1,91,77,266 रुपये की की रिश्वत मिली थी।

गिरफ्तार किए गए आरोपियों में एक पूर्व वरिष्ठ यातायात अधिकारी, एक यातायात निरीक्षक और चार नागरिक शामिल थे। देश के सबसे बड़े राजनीतिक दल – यूनाइटेड रशिया के एक वरिष्ठ राजनेता एलेक्जेंडर खिन्शेटिन ने कहा कि 35 से अधिक ट्रैफिक पुलिस अधिकारियों को एक बड़े ऑपरेशन के तहत हिरासत में लिया गया था।

जांच के लिए इन आरोपी अधिकारियों के करीब 80 संपत्तियों पर छापा मारा गया, जिसमें बड़ी मात्रा में नकदी, महंगी कारें और दस्तावेजों को जब्त किया गया है।

Related posts