सचिन तेंदुलकर ने किया इमोशनल पोस्ट- ‘आंसू छलक जाने से मर्द कमजोर नहीं होता’

sachin tendulkar,sachin tendulkar emotional post

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. अपनी शानदार बल्लेबाजी से क्रिकेट जगत में एक नई पटकथा लिखने वाले सचिन तेंदुलकर का एक इंस्टाग्राम पोस्ट खूब वायरल हो रहा है। सचिन ने ‘इंटरनेशनल मेंस वीक’ के अवसर पर सभी लड़कों और पुरुषों के नाम एक पत्र लिखा है, जिसमें उन्होंने पुरुषों से मजबूत बनने के लिए भावनाओं का खुलकर इजहार करने का अनुरोध किया और कहा कि पुरुषों को अगर रोना आए तो रोना चाहिए। पुरुषों के लिए ऐसा करना सही है।



सचिन ने अपने पोस्ट में लिखा कि, ‘आप जल्द ही पति, पिता, भाई, दोस्त, मेंटर और अध्यापक बनेंगे। आपको उदाहरण तय करने होंगे। आपको मजबूत और साहसी बनना होगा लेकिन आपके जीवन में ऐसे पल भी आएंगे, जब आपको डर, संदेह और परेशानियों का अनुभव होगा। वह समय भी आएगा जब आप विफल होंगे और आपको रोने का मन करेगा। लेकिन यकीनन ऐसे समय में आप अपने आंसुओं को रोक लेंगे और मजबूत दिखने का प्रयास करेंगे, क्येंकि पुरुष ऐसा ही करते हैं।’

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Sachin Tendulkar (@sachintendulkar) on

इसके अलावा उन्होंने कहा कि, ‘रोने और आंसू बहाने में कोई शर्म नहीं है। यह जीवन का हिस्सा है और इससे आप मजबूत बनते हैं। अपना दर्द जताने के लिए काफी हिम्मत की जरूरत होती है। लेकिन यह बात पक्की है कि इस सबसे आप अधिक मजबूत और बेहतर इंसान बनेंगे। मैं आपको यही कहूंगा कि पुरुषों को क्या करना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए इस रुढ़िवाद से आगे बढ़िए।’

बता दें मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम पर 16 नबंवर 2013 का दिन इतिहास के पन्नों में हमेशा के लिए दर्ज है। क्योंकि इसी दिन वेस्ट इंडीज से टेस्ट सीरीज जीतने के साथ क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन ने हमेशा के लिए क्रिकेट को अलविदा कह दिया। दुनिया भर के क्रिकेट प्रेमियों ने इस दिन एक युग को खत्म होते देखा था।

ये भी पढ़े…

ICC ने उड़ाया सचिन तेंदुलकर का मजाक तो भड़क गए फैंस, ट्रोल कर उतारा गुस्सा

क्रिकेट के भगवान हुए हॉल ऑफ फेम में शामिल, यह उपलब्धि हासिल करने वाले बने छठे भारतीय क्रिकेटर

स्पॉट फिक्सिंग मामले में दोषी पाया गया दक्षिण अफ्रीका का ये क्रिकेटर, हुई 5 साल की जेल

Related posts