जम्मू कश्मीर: महिला कमांडेंट ने तीन आतंकियों को किया ढेर, पहले भी कर चुकी हैं शौर्य का प्रदर्शन

santo devi

चैतन्य भारत न्यूज

श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर के लावेपोरा इलाके में सुरक्षाबलों को एक बड़ी कामयाबी हासिल हुई है। एक ऑपरेशन के दौरान सीआरपीएफ के जवानों ने तीन आतंकियों को मार गिराया है। खास बात यह है कि लावेपोरा में हुए इस ऑपरेशन की अगुवाई सीआरपीएफ (CRPF) की 73 बटालियन की कमांडेंट संतो देवी कर रही थीं।


आतंकियों ने की फायरिंग

सूत्रों से जानकारी मिली थी कि आतंकी उत्तरी कश्मीर से श्रीनगर में दाखिल होने की फिराख में हैं। इसके मद्देनजर श्रीनगर बरमुल्लाह राजमार्ग में लावेपोरा में इस बटालियन का नाका लगाया गया और संदिग्ध वाहनों की तलाशी की जाने लगी। तभी सुबह 11 बजे के आसपास वहां से एक स्कूटर पर तीन लोग सवार होकर जा रहे थे। जैसे ही पुलिस ने उन्हें रुकने को कहा तो सबसे पीछे बैठे शख्स ने पिस्टल निकालकर फायरिंग करना शुरू कर दी।

एक जवान शहीद

इसके बाद संतो देवी ने तुरंत मोर्चा संभाला और बीच सड़क पर 2 आतंकियों को ढेर कर दिया। उन्होंने तीसरे आतंकी को भी गंभीर रूप से घायल कर दिया, जो स्कूटी लेकर भागने की कोशिश कर रहा था लेकिन उसे भी गिरफ्तार कर लिया गया। बाद में उसकी अस्पताल में मौत हो गई। हालांकि, इस घटना में एक जवान भी शहीद हो गया है। आतंकी ने सीआरपीएफ जवान रमेश रंजन के सिर में गोली मार दी। घायल होने के बावजूद जवान रमेश ने गोली चलाई और इसके बाद नाके पर तैनात बाकी के जवानों ने मोर्चा संभाला।

आतंकियों के पास से पिस्टल और ग्रेनेड बरामद

जानकारी के मुताबिक, खतीब, इस्लामिक स्टेट ऑफ जम्मू कश्मीर का कमांडर था और बिजबहरा का रहने वाला था जबकि दूसरा आतंकी जिया बड़गाम का रहने वाला था। तीसरा आतंकी ओमार फयाज था। आतंकियों के पास से दो पिस्टल और दो ग्रेनेड बरामद किए गए हैं।

पहले भी कर चुकी हैं शौर्य का प्रदर्शन

गौरतलब है कि संतो देवी पहले भी अपने शौर्य का प्रदर्शन कर चुकी हैं। साल 2005 में अयोध्या में रामलला परिसर में हुए आतंकी हमले को विफल करने वाली टीम में संतो देवी भी शामिल थीं।

ये भी पढ़े…

जम्मू-श्रीनगर नेशनल हाईवे पर आतंकियों ने पुलिस पर किया हमला, मुठभेड़ में 3 आतंकी ढेर, एक जवान घायल

रेलवे के ई-टिकटिंग गिरोह का भंडाफोड़, आतंकी फंडिंग से तार जुड़े होने की आशंका, RPF ने 28 लोगों को किया गिरफ्तार

आलिया भट्ट की मां ने उठाया आतंकी अफजल गुरु की फांसी पर सवाल- उसे बलि का बकरा क्यों बनाया? हुईं ट्रोल

 

Related posts