‘जिन्ना’ को कांग्रेसी बताने वाले बयान पर शत्रुघ्न सिन्हा की सफाई, मेरी जुबान फिसल गई थी

चैतन्य भारत न्यूज

मोहम्मद अली जिन्ना को कांग्रेस का सदस्य बताने के बाद उस पर मचे सियासी हंगामे के बीच भाजपा छोड़कर कांग्रेस में आए शत्रुघ्न सिन्हा ने इसे लेकर शनिवार को सफाई दी। सिन्हा ने  बताया कि मैंने शुक्रवार को जो भी कहा था वो स्लिप ऑफ टंग था, मेरी जुबान फिसल गई थी। मैं कहना चाहता था मौलाना आजाद, लेकिन मेरे मुंह से मो. अली जिन्ना निकल गया।

बिहार के पटना साहिब सीट से भाजपा सांसद रह चुके शत्रुघ्न सिन्हा अब कांग्रेस के टिकट पर इसी सीट से चुनाव लड़ रहे हैं। शुक्रवार को मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा के सौंसर में कांग्रेस प्रत्याशी और मुख्यमंत्री कमलनाथ के बेटे नकुलनाथ के समर्थन में आयोजित एक सभा में सिन्हा ने कह दिया था कि भारत की आजादी और विकास में मो. अली जिन्ना का भी योगदान है।

भाषण में यह कहा था
कांग्रेस महात्मा गांधी से लेकर सरदार वल्लभ भाई पटेल तक, मो. अली जिन्ना से लेकर जवाहरलाल नेहरू तक, इंदिरा गांधी से लेकर राजीव गांधी और राहुल गांधी तक की पार्टी है। भारत की आजादी और विकास में इन सभी का योगदान है इसलिए मैं कांग्रेस पार्टी में आया हूं। एक बार आ गया हूं, पहली और शायद आखिरी बार, अब जाने का सवाल ही नहीं है।

उनके इस बयान पर राजनीतिक घमासान छिड़ गया था। भाजपा को कांग्रेस पर सियासी हमले का अवसर मिल गया था। इसे लेकर कांग्रेस को अपनी तरफ से स्पष्टीकरण भी देना पड़ा।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री पी. चिदंबरम ने कहा, उनके (सिन्हा के) जो भी विचार हैं, उसका स्पष्टीकरण दिया जाना चाहिए। कुछ समय पहले तक वे भाजपा का हिस्सा था। भाजपा को बताना चाहिए कि सिन्हा इतने साल तक पार्टी का हिस्सा क्यों थे। मैं पार्टी के हर सदस्य के बयान पर स्पष्टीकरण नहीं दे सकता। सिर्फ पार्टी के आधिकारिक पक्ष पर अपनी बात रख सकता हूं।

Related posts