शारदीय नवरात्रि 2019 : व्रत रखने वाले लोग इन नियमों का रखें खासतौर से ध्यान, वरना देवी हो जाएंगी रुष्ट

चैतन्य भारत न्यूज

इस बार शारदीय नवरात्रि की शुरुआत 29 सितंबर से हो रही है। नवरात्रि का पर्व नौ देवियों की आराधना करने के लिए होता है। इन नौ दिनों में भक्तजन मां की भक्ति में लीन हो जाते हैं। घरों में नौ दिन तक मां दुर्गा की अखंड ज्योति की स्थापना की जाती है और नियम से पूजा-पाठ की जाती है। नवरात्रि की पूजा के लिए कुछ खास बातों के ध्यान रखना बेहद जरुरी होता है। आइए जानते हैं वो कौन-से नियम हैं, जिनका इन नौ दिनों में खास तौर से ध्यान रखना चाहिए।



  • नवरात्रि में नौ दिनों का व्रत रखने वाले लोग जमीन पर सोएं।
  • इन सभी नौ दिनों तक ब्रह्मचर्य का पालन करना चाहिए।
  • व्रत करने वाले सिर्फ फलाहार करें या फिर व्रत में खाई जाने वाली चीजों का ही सेवन करें।
  • व्रत के दौरान मां को रोजाना भोग लगाना चाहिए।
  • मां को नारियल, नींबू, अनार, केला, मौसमी और कटहल का भोग लगा सकते हैं।
  • व्रत करने वाले को हमेशा क्षमा, दया व उदारता का भाव रखने का संकल्प लेना चाहिए।

कलश स्थापना का शुभ मुहूर्त

मां दुर्गा की कृपा पाने के लिए विधि से कलश स्थापना कर उसका पूजन किया जाना चाहिए। ज्योतिषानुसार, इस बार नवरात्रि 29 सितंबर को सुबह 6:04 मिनट से शुरू होगी। कलश स्थापना का शुभ मुहूर्त स्थिर लग्न में सुबह 11:36 बजे से दोपहर 12:24 बजे तक रहेगा।

ये भी पढ़े…

इस दिन शुरू होगी नवरात्रि, जानिए मां दुर्गा के नौ रूप, पूजा-विधि और महत्वपूर्ण तिथियों के बारे में

27 सितंबर राशिफल : इन चार राशियों का हो सकता है मुसीबतों से सामना, वृषभ राशि वाले रहे सावधान 

सर्व पितृ अमावस्या पर 20 साल बाद बन रहा है ये शुभ संयोग, मिलेगा श्राद्ध का पूरा फल और सौ बाधाओं से मुक्ति

Related posts