शिया वक्फ बोर्ड का दावा : अगर हमें मिली अयोध्या में 5 एकड़ जमीन, तो बनाएंगे ‘राम नाम’ का अस्पताल

ram`

चैतन्य भारत न्यूज

लखनऊ. शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड ने अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर सहर्ष सहमति जताई है। बोर्ड ने कहा है कि वह इस फैसले के खिलाफ पुनर्विचार याचिका दायर नहीं करेगा। इतना ही नहीं बल्कि शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड ने यह भी कहा है कि, यदि सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड अयोध्या में 5 एकड़ जमीन नहीं लेता है तो वह उस पर दावा कर सकता है। बोर्ड का कहना है कि, वह उस 5 एकड़ जमीन पर जनहित के लिए एक अस्पताल का निर्माण करवाएगा, जिसमें सभी धर्मों के लोगों का नि:शुल्क इलाज किया जाएगा।


इन 16 पॉइंट में जानिए अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले की खास बातें

5 एकड़ जमीन पर बनाएंगे ‘राम नाम’ का अस्पताल

बता दें अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में सुन्नी वक्फ बोर्ड को पांच एकड़ जमीन दी जाने की बात कही थी। लेकिन सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड ने अब तक अयोध्या में मस्जिद निर्माण के लिए 5 एकड़ जमीन लिए जाने के फैसले पर कोई निर्णय नहीं लिया है। उन्होंने अब तक यह तय नहीं किया है कि वह मस्जिद निर्माण के लिए मिलने वाली जमीन पर दावा करेगा या नहीं। जिसके बाद शिया वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी ने कहा कि, ‘हमनें यह प्रस्ताव पास किया है कि अगर सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड मस्जिद निर्माण के लिए आवंटित जमीन को स्वीकार नहीं करता है तो हम इस जमीन को शिया वक्फ बोर्ड को देने की मांग करेंगे। हम इस जमीन पर एक राम नाम का अस्पताल बनाएंगे, जिसमें सभी धर्म के लोगों का मुफ्त इलाज हो सकेगा।’

अयोध्या फैसले पर पीएम मोदी ने कहा- दशकों पुराने मामले का सौहार्दपूर्ण तरीके से समाधान कर दिया

पुनर्विचार याचिका दायर करने से ख़राब होंगे देश के हालात 

जानकारी के मुताबिक, बुधवार को शिया वक्फ बोर्ड की बैठक हुई थी, जिसमें 5 एकड़ जमीन पर अस्पताल बनवाने की बात तय की गई। बता दें इस बैठक में शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के 7 सदस्यों में से 5 सदस्य उपस्थित थे। बैठक में बोर्ड ने सर्वसम्मति से फैसला लिया कि शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड द्वारा पुनर्विचार याचिका दायर नहीं की जाएगी। वसीम रिजवी का कहना है कि, ‘सुप्रीम कोर्ट का फैसला अंतिम फैसला है। राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद में पुनर्विचार याचिका दायर करने से देश के हालात खराब हो सकते हैं, इसलिए हम ऐसा कुछ भी नहीं करेंगे।’

ये भी पढ़े…

इस हिंदू शख्स ने अयोध्या में मस्जिद बनवाने के लिए दिया 5 एकड़ जमीन दान देने का प्रस्ताव

ये हैं वो 5 कारण जिसकी वजह से अयोध्या केस में खारिज हुआ मुस्लिम पक्ष का दावा!

राम मंदिर-बाबरी मस्जिद विवाद पर फिल्म बनाएंगी कंगना रनौत, टाइटल होगा अपराजित अयोध्या 

पाकिस्तान को रास नहीं आया अयोध्या का फैसला, कहा- अब कश्मीर की आग और भड़केगी

Related posts