मध्यप्रदेश में बारिश का कहर, शिवना नदी की बाढ़ में डूबे भगवान पशुपतिनाथ

shivna nadi, pashupatinath mandir ,mandsaur, pashupatinath mandir ,heavy rainfall and flood in mandsaur, flood in pashupatinath mandir mandsaur

चैतन्य भारत न्यूज

प्रदेश में हो रही झमाझम बारिश का असर मंदसौर में भी देखा गया। लगातार हो रही बारिश से शिवना नदी उफान पर है। शिवना नदी की बाढ़ में पशुपतिनाथ का मंदिर पूरी तरह से डूब गया है और शिवलिंग भी जलमग्न हो गया। इतना ही नहीं बल्कि निचली बस्तियों में पानी भर जाने से बड़ी संख्या में लोगों को राहत शिविरों में पहुंचाया गया है।

shivna nadi, pashupatinath mandir ,mandsaur, pashupatinath mandir ,heavy rainfall and flood in mandsaur, flood in pashupatinath mandir mandsaur

नदी में आई बाढ़ से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। नदी के घाटों की ओर लोगोंं को जाने नहीं दिया जा रहा है। संभावना है कि क्षेत्र में अभी और बारिश होगी। जानकारी के मुताबिक, मंदसौर जिले के साथ-साथ इंदौर, उज्जैन, प्रतापगढ़, रतलाम एवं आसपास के सभी जिलों में लगातार भारी वर्षा होने से गांधीसागर डेम के सभी गेट खोलने के पश्चात भी पानी का स्तर बढ़ रहा है। पानी के स्तर के कम होने की वर्तमान में कोई संभावना नहीं दिख रही है।



shivna nadi, pashupatinath mandir ,mandsaur, pashupatinath mandir ,heavy rainfall and flood in mandsaur, flood in pashupatinath mandir mandsaur

पानी से भरे खेतों में फसलें पूरी तरह से चौपट होने की कगार पर है। फसलों की हालत देख किसानों की परेशानी भी बढ़ रही है। वहीं नदी-नाले लगातार उफान पर चलने से जिलेभर में 10 से अधिक मार्गो से आवागमन बंद हो गया है। बारिश के बीच कलेक्टर मनोज पुष्प ने डीईओ आरएल कारपेंटर को निर्देश जारी कर कहा कि, ‘बारिश के दौर में जर्जर स्कूल भवन में कक्षाएं संचालित नहीं हो, साथ ही नदी-नालों की पुल-पुलियाओं पर पानी होने की स्थितियों में वाहन नहीं निकालें जाए।’

ये भी पढ़े…

मप्र : पहले कराई शादी, अब बारिश से परेशान लोगों ने करवाया मेंढक-मेंढकी का तलाक

मध्यप्रदेश में भारी बारिश का कहर, भोपाल सहित इन जिलों में अगले 24 घंटे के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी

मुंबई-पुणे में बारिश ने मचाई तबाही, दीवार गिरने से 21 लोगों की हुई मौत

Related posts