तेज हंसने से भी फैल सकता है कोरोना वायरस, यहां पढ़ें कोविड-19 से संबंधित ICMR द्वारा दिए गए कई सवालों के जवाब

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. चीन में फैल रहा जानलेवा कोरोना वायरस की दहशत पूरी दुनिया में जारी हैं। कोरोना वायरस के फैलते संक्रमण को रोकने के लिए पूरे देश को 21 दिनों के लिए लॉकडाउन कर दिया गया है। देश में अब तक कुल संक्रमितों की संख्या 740 के पार हो चुकी है। जबकि ये वायरस 18 लोगों की जान ले चुका है। ऐसे में भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (ICMR) ने कोरोना वायरस से संबंधित कुछ सवालों के जवाब दिए हैं-

प्रश्न – क्या हृदय रोग, डायबिटीज या हाई ब्लड प्रेशर के रोगियों को कोरोना वायरस के संक्रमण का ज्यादा खतरा है?
जवाब- नहीं, हृदय रोग, डायबिटीज या हाई ब्लड प्रेशर के रोगियों को अन्य लोगों की तुलना में संक्रमण का ज्यादा खतरा नहीं है।

प्रश्न – हृदय रोग, डायबिटीज या हाई ब्लड प्रेशर जैसे रोगों से पीड़ित लोगों में संक्रमण होने पर गंभीर बीमारी या समस्याओं का खतरा बढ़ जाता है?
जवाब – कोरोना वायरस से पीड़ित ज्यादातर (80 फीसदी) लोगों में सांस संबंधी संक्रमण (बुखार, गले में खराश, खांसी) के थोड़े बहुत लक्षण होते हैं और वे पूरी तरह ठीक भी हो जाते हैं। लेकिन ऐसे लोग जिन्हें हृदय रोग, डायबिटीज या हाई ब्लड को अधिक गंभीर बीमारी होने का खतरा है। इन बीमारी में हृदयघात (कमजोर हृदय) वाले लोग भी शामिल हैं।

प्रश्न- क्या डायबिटीज से पीड़ित लोगों को कोरोना वायरस होने का अधिक खतरा है?
जवाब – सामान्य तौर पर अनियंत्रित डायबिटीज से पीड़ित लोगों में सभी संक्रमण होने का खतरा ज्यादा रहता है। डायबिटीज से पीड़ित लोग संक्रमण के अधिक जोखिम में नहीं हैं, लेकिन एक बार संक्रमित होने पर अधिक गंभीर बीमारी और खराब परिणामों का खतरा है। इसलिए डायबिटीज को कण्ट्रोल में रखना बेहद है।

प्रश्न – क्या बीपी की कुछ दवाइयों का सेवन करना कोविड-19 की तीव्रता को बढ़ा रहा है?
जवाब – विभिन्न वैज्ञानिकों और हृदयरोग विशेषज्ञों का कहना है कि इसका कोई प्रमाण नहीं है।

प्रश्न – क्या दर्द/ बुखार निवारक दवाएं ली जा सकती हैं?
जवाब – कुछ प्रकार की दर्द निवारक दवाएं जैसे कि इबुप्रोफेन कोविड-19 बीमारी की तीव्रता को बढ़ा सकते हैं। इसलिए अगर आवश्यक हो तो पैरासिटामोल सबसे सुरक्षित दर्द निवारक दवाइयों में से एक है।

प्रश्न – यदि कोरोना वायरस के लक्षण हों तो क्या करना चाहिए?
जवाब – यदि आपको सांस की तकलीफ के बिना बुखार, खांसी, मांसपेशियों में दर्द हो रहा है तो अपने डॉक्टर को फोन करें और फोन पर सलाह लें। आपको घर पर रहने की जरूरत है (कम से कम 14 दिनों के लिए) और परिवार के अन्य सदस्यों से दूर रहे। हाथ की स्वच्छता बनाए रखें और सही ढंग से एक चिकित्सा मास्क पहनें। यदि आपको सांस की तकलीफ हो या बिगड़ते लक्षण जैसे बहुत ज्यादा थकान हो तो चिकित्सक की सलाह लें।

प्रश्न – कोविड-19 की रोकथाम करने के लिए क्या करना चाहिए?
जवाब – कोविड-19 खांसी और छींक द्वारा, ड्रॉपलेट और छूने से फैलता है। अगर आप किसी वस्तु को छू रहे हैं तो उसपर मौजूद वायरस के कण आपके हाथों में पहुंच जाते हैं। जब आप उन्ही हाथों से अपना चेहरा छूते हैं तो आप संक्रमित हो जाते हैं। वायरस के कण किसी भी वस्तु पर कम से कम तीन दिन तक बने रह सकते हैं इसलिए आप अपने आस-पास सफाई का खासतौर से ध्यान रखें।

प्रश्न – क्या तेज हंसने से भी कोरोना वायरस फैल सकता है?
जवाब – हां… यह वायरस संक्रमित व्यक्ति के जोर से हंसने पर भी निकलता है। इसलिए हमेशा किसी भी व्यक्ति से एक मीटर की दूरी बनाए रखें और जितना हो सके भीड़ से दूर रहें।

ये भी पढ़े…

कोरोना वायरस: रितिक से लेकर प्रभास तक किसी ने दान किए 1 करोड़ तो किसी ने मास्क

विटामिन-C के डोज से ठीक हो रहे कोरोना के मरीज! चीन के बाद अमेरिका के डॉक्टरों ने अपनाया इलाज का यह तरीका

 कोरोना का खौफ: महिला ने छींका, तो दुकानदार ने डर के मारे फेंक दिया 26 लाख का खाने का सामान

Related posts