सरकार ने लॉन्च किया गाय के गोबर से बना साबुन और बांस की बोतल, इतने रुपए में खरीद सकते हैं

soap of cow dung launches nitin gadkari ,cow dung soap ,cow dung soap price,nitin gadkari,soap of cow dung

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. केंद्र सरकार ने गाय के गोबर से बना नहाने का साबुन और बांस से बनी बोतल को लॉन्च किया है। अभी तक लोग नहाने में सुगंधित केमिकल के जरिए बनाए गए साबुन का इस्तेमाल करते थे, लेकिन अब आप प्राकृतिक तौर पर गाय के गोबर से बने साबुन का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।



soap of cow dung launches nitin gadkari ,cow dung soap ,cow dung soap price,nitin gadkari,soap of cow dung

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने मंगलवार को यहां खादी और ग्रामोद्योग आयोग द्वारा निर्मित इस गाय के गोबर से बने साबुन और बांस से बनी पानी की बोतलों को लॉन्च करते हुए कहा कि वह जैविक खेती और उसके लाभ के पुरजोर समर्थक है।

soap of cow dung launches nitin gadkari ,cow dung soap ,cow dung soap price,nitin gadkari,soap of cow dung

जानकारी के मुताबिक, इन उत्पादों को खादी ग्रामोद्योग (KVIC) द्वारा बनाया गया है। बांस की बोतल की कीमत 560 रुपए और 125 ग्राम के साबुन की कीमत 125 रुपए रखी गई है। इस साबुन की सबसे बड़ी खासियत यह है कि इससे आपके शरीर पर कोई बुरा प्रभाव नहीं पड़ेगा और आपकी त्वचा भी प्राकृतिक तरीके से चमकती रहेगी।

soap of cow dung launches nitin gadkari ,cow dung soap ,cow dung soap price,nitin gadkari,soap of cow dung

लॉन्चिंग के मौके पर गडकरी ने कहा कि, खादी ग्रामोद्योग को अगले दो साल में 10 हजार करोड़ रुपए का टर्नओवर हासिल करना होगा। उन्होंने कहा कि ‘हमें गुणवत्ता और बेहतर पैकेजिंग के साथ महात्मा गांधी के आर्थिक विचारों की भावना के समझौता किए बिना पेशेवर और पारदर्शी दृष्टिकोण की आवश्यकता है।’

soap of cow dung launches nitin gadkari ,cow dung soap ,cow dung soap price,nitin gadkari,soap of cow dung

कहा जा रहा है कि 2 अक्टूबर के दिन देश के राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के मौके पर खादी उत्पादों पर काफी छूट मिलेगी। इसके साथ ही सरकार ने घोषणा की है कि खादी ग्रामोद्योग आयोग अब रोजगार भी देगा।

ये भी पढ़े…

हात्मा गांधी और शास्त्री जी की जयंती पर देश का नमन, पीएम मोदी सहित इन दिग्गज नेताओं ने दी श्रद्धांजलि

गांधी जयंती : सरल स्वभाव और अहिंसा के रास्ते चलने वाले महात्मा गांधी, जानें राष्ट्रपिता से जुड़ी कुछ खास बातें

गांधी जयंती : जब 5-5 रुपए में अपने ऑटोग्राफ बेचने को मजबूर हुए थे महात्मा गांधी, ये थी वजह

Related posts