दिमाग को तेजी से नुकसान पहुंचाती है नशे की लत, इन तरीकों आप पा सकते हैं निजात

चैतन्य भारत न्यूज

बॉलीवुड इंडस्ट्री आज ड्रग्स मामले को लेकर दुनियाभर में चर्चा का विषय बनी हुई है। इस इंडस्ट्री के कई सितारें ड्रग्स की लत से जूझ रहे हैं जिसे लेकर एनसीबी जांच में भी जुटी हुई है। विश्व ड्रग रिपोर्ट 2020 के मुताबिक, विकासशील देशों के मुकाबले विकसित देशों में ड्रग्स का उपयोग ज्यादा है। कोकेन जैसे ड्रग्स का इस्तेमाल दुनिया के कई अमीर हिस्सों में किया जा रहा है।

अंग से ज्यादा दिमाग को नुकसान पहुंचाती है नशे की लत

विशेषज्ञों का कहना है कि, ‘नशा आपको हमेशा एडिक्शन यानी लत की ओर ले जाता है। कोई भी नशा नहीं करना चाहिए। सिगरेट की लत वालों को लगता है कि उनका केवल फेफड़ा कमजोर हो रहा है या शराब पीने वालों को लगता है कि इस नशे का असर उनके लिवर पर हो रहा है, जबकि ऐसा नहीं है। कोई भी नशा हो वो लिवर, किडनी, फेफड़ों से ज्यादा दिमाग को नुकसान पहुंचाता है।’

क्या है लत?

अमेरिकन साइकेट्रिक एसोसिएशन के अनुसार, लत एक मानसिक बीमारी जो किसी एक चीज के लगातार उपयोग के कारण होती है। व्यक्ति जानता है कि इसका सेहत पर काफी बुरा असर पड़ सकता है, लेकिन इसके बावजूद वह इसका इस्तेमाल करता रहता है। ये लत दिमाग के काम करने के तरीके को भी बुरी तरह प्रभावित कर देती है. नशे की लत से जूझ रहे लोगों में टोलरेंस विकसित हो जाता है, यानी धीरे-धीरे नशे की मात्रा बढ़ने लगती है, क्योंकि जितना नशा वे पहले करते थे, वह अब उन्हें कम लगने लगा है।

नशे की लत से कैसे निपटें?

  • ज्यादातर लोग धीरे-धीरे नशा छोड़ने के बारे में सोचते हैं। अगर आप लत छोड़ना चाहते हैं, तो एकदम से नशे की चीजों से दूरी बना लें।
  • नशा छोड़ने में सबसे बड़ी भूमिका मजबूत मन और इरादा निभाता है। अगर आपने फैसला कर लिया है कि आप दोबारा नशे को हाथ नहीं लगाएंगे, तो पहले मन में आत्मविश्वास बढ़ाएं। खुद पर भरोसा करना शुरू करें कि इस काम को फिर से नहीं दोहराएंगे।
  • इस दौरान सबसे जरूरी चीज घर का सपोर्ट होता है। अगर रिश्तेदार लगातार लत से जूझ रहे व्यक्ति को ताना देते रहेंगे तो उनका शराब या किसी भी तरह के नशे को छोड़ना मुश्किल हो जाएगा। ऐसे में परिवार इस बात को तय करें कि उनका समर्थन करें।
  • कई बार कोई व्यक्ति किसी बीमारी के कारण ही नशा करना शुरू कर देता है। एक बीमारी को भुलाने के लिए नशे का सहारा लेता है और बाद में इसकी लत स्वास्थ्य पर और बुरा असर डालती है। ऐसे में नशे का कारण जानें और अगर वह कारण एक बीमारी है, तो पहले उसका इलाज कराएं।
  • नशा करने के कई कारण होते हैं। कई बार व्यक्ति किसी दबाव में, दोस्ती के कारण नशा करना शुरू कर देता है। ऐसे में अगर आप नशा छोड़ने के लिए तैयार हो चुके हैं, तो इस तरह की हर चीज से दूरी बना लें।
  • लत छोड़ने से पहले यह जानना बहुत जरूरी है कि आपने नशा करना शुरू क्यों किया था। क्योंकि अगर आप यह कारण जानते हैं, तो आपको भविष्य के लिए रणनीति तैयार करने में मदद मिलेगी।
  • लत छोड़ने की कोशिश के दौरान कई बार आप खुद को नशे वाली जगहों पर पाएंगे, जैसे- पार्टी। ऐसे में अपने मन को मजबूत रखें और यह तय करें कि आप यहां केवल शामिल होने आएं हैं, नशा करने नहीं।
  • 1नशा छोड़ने के लिए आपको मानसिक ही नहीं शारीरिक तौर पर भी तैयार होना होगा। नशा छोड़ने की प्रक्रिया के दौरान अपनी शारीरिक सेहत का ख्याल रखें। संतुलित डाइट लें, रात में अच्छी नींद लें और एक्सरसाइज को रुटीन में शामिल करें।

Related posts