मदद से मिला मानः बंगाल के दुर्गा पूजा पंडाल में लगाई गई सोनू सूद की प्रतिमा

चैतन्य भारत न्यूज 

कोलकाता. कोरोना की वजह से लगे लॉकडाउन में फंसे प्रवासी श्रमिकों को घर भिजवाने की व्यवस्था कर  मसीहा बनकर उभरे बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद को सम्मान मिला है। कोलकाता के दुर्गा पूजा पंडाल में उनकी प्रतिमा लगाई गई है। केस्टोपुर प्रफुल्ल कानन पश्चिम आदिवासी वृंद क्लब के पंडाल में सोनू सूद की आदमकद प्रतिमा लगी है।

प्रतिमा में सोनू को प्रवासी श्रमिकों को उनके घर भेजने के लिए बस की व्यवस्था करते दिखाया गया है। सोनू सूद की प्रतिमा नीले रंग की टीशर्ट और काले रंग की पैंट में है। सोनू सूद बस के सामने खड़े होकर प्रवासी श्रमिकों को उसमें चढ़ने के लिए कहते हुए दिखाए गए हैं। साथ ही प्रवासी श्रमिक हाथ जोड़कर उनका अभिवादन कर रहे हैं। पूजा कमेटी के पदाधिकारियों ने बताया कि सोनू सूद ने बहुत नेक काम किया है। हमने उनकी बड़ी प्रतिमा इसलिए लगाई ताकि दूसरे लोग भी अपने आसपास मौजूद असहाय लोगों की मदद करने के लिए प्रोत्साहित हों। कमेटी ने सोनू सूद को पंडाल देखने आने के लिए आमंत्रित भी किया गया है।  दूसरी तरफ सोनू सूद ने आभार प्रकट करते हुए ट्वीट किया कि यह उन्हें मिला अब तक का सबसे बड़ा सम्मान है।

सोनू सूद ने पूजा कमेटी के पदाधिकारियों से वादा किया है कि संभव होने पर वे पंडाल देखने जरूर आएंगे। इस पूजा थीम को तैयार करने वाले कलाकार के मुताबिक इसमें प्रवासी श्रमिकों की तकलीफों को भी चित्रित किया गया है। थके-हारे प्रवासी श्रमिकों के पटरी पर सो जाने से ट्रेन से कटकर हुई मौत का खौफनाक मंजर भी दर्शाया गया है तो एक प्रवासी श्रमिक को सीमेंट मिक्सर मशीन में सोते हुए दिखाया गया है।

Related posts