नागरिकता कानून पर बेटी ने किया विरोध तो पापा सौरव गांगुली ने ऐसे किया बचाव, उठे कई सवाल

sourav ganguly

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली की बेटी सना ने नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के विरोध वाली एक पोस्ट इंस्टाग्राम पर शेयर की थी। हालांकि इसे हटा दिया गया लेकिन इसका स्क्रीनशॉट सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है।’



बता दें नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ देश के कई हिस्सों में प्रदर्शन हो रहा है। ऐसे में सना ने भी इसके विरोध में एक पोस्ट शेयर किया था, जिस पर विवाद हो गया। सना ने इसमें खुशवंत सिंह के उपन्यास ‘द एंड आफ इंडिया’ से कुछ पंक्तियां डाली हुई है। इसमें कहा गया है कि, ‘नफरत की बुनियाद पर खड़ा किया गया आंदोलन लगातार भय और संघर्ष का माहौल बनाकर ही जीवित रह सकता है। जो यह सोचते हैं कि मुसलमान या ईसाई नहीं होने की वजह से वे सुरक्षित हैं तो वे मूर्खों की दुनिया में जी रहे हैं।’

sourav ganguly

गांगुली ने अपनी बेटी का बचाव किया और राजनीति के लिए उसे अभी छोटा बताया। इस पर सौरव ने कहा कि, ‘कृपया सना को इन सभी मामलों से दूर रखें। यह पोस्ट सच नहीं है। राजनीति को समझने के लिए अभी वह बहुत छोटी है।’

बता दें सना की उम्र 18 साल है। कानूनी हिसाब से देखें तो सना गांगुली वयस्क हैं और खुद अपने फैसले ले सकती हैं। लेकिन जिस तरह सौरव ने उनके पोस्ट को राजनीति के हिसाब से नासमझी बताया है उस पर कई सवाल खड़े किए जा रहे हैं।

ये भी पढ़े…

सौरव गांगुली ने संभाली BCCI के नए अध्यक्ष पद की कमान, तोड़ा 65 साल पुराना रिकॉर्ड

BCCI अध्यक्ष के रूप में गांगुली के नाम पर पाकिस्तानी क्रिकेटर शोएब अख्तर का बड़ा बयान

कोहली के इस बयान पर नाराज हुए गावस्कर, बोले- कोहली के पैदा होने से पहले भी जीतती थी टीम इंडिया

Related posts