साउथ सुपरस्टार रजनीकांत को दादा साहब फाल्के पुरस्कार, अवार्ड को राजनीति से जोड़ा जा रहा

rajinikanth,rajinikanth birthday,rajinikanth ka janmdin

चैतन्य भारत न्यूज

दक्षिण भारत के सुपरस्टार रजनीकांत को दादा साहेब फाल्के अवॉर्ड 2019 से नवाजा जाएगा।इसकी जानकारी केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने गुरुवार को दी है। कोरोना वायरस की वजह से इस बार सभी पुरस्कारों को घोषणा देरी से हुई है।

बता दें हाल ही में नेशनल अवॉर्ड की घोषणा भी हुई है। प्रकाश जावड़ेकर ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा- ‘हमें खुशी है कि देश के सभी भागों से फिल्मकार, अभिनेता, अभिनेत्री, गायक, संगीतकार सभी लोगों को समय समय पर दादा साहब फाल्के अवॉर्ड मिला है। आज इस साल का दादा साहब फाल्के अवॉर्ड महान नायक रजनीकांत को घोषित करते हुए हमें बहुत खुशी है। रजनीकांत बीते 5 दशक से सिनेमा की दुनिया पर राज कर रहे हैं और लोगों का मनोरंजन कर रहे हैं। यही कारण है कि इस बार दादा साहेब फाल्के की ज्यूरी ने रजनीकांत को ये अवॉर्ड देने का फैसला लिया गया है।’

अवार्ड को जोड़ा जा रहा राजनीति से

इस दौरान प्रकाश जावड़ेकर से जब यह पूछा गया कि, क्या तमिलनाडु के चुनाव के कारण रजनीकांत को दादा साहेब फाल्के अवार्ड दिया जा रहा है? इस पर जावड़ेकर उखड़ गए और कहने लगे कि सवाल सही पूछा कीजिए। उन्होंने इसके जवाब में कहा कि, ‘रजनीकांत का फिल्म इंडस्ट्री के योगदान के लिए उन्हें यह सम्मान दिया जा रहा है। इसका चुनाव से कोई लेना-देना नहीं है।’ बता दें तमिलनाडु में 6 अप्रैल को विधानसभा चुनाव के लिए वाेटिंग होनी है।

5 लोगों की ज्यूरी से एकमत फैसला

इस साल ये सिलेक्शन ज्यूरी ने किया है। इस ज्यूरी में आशा भोंसले, मोहनलाल, विश्वजीत चटर्जी, शंकर महादेवन और सुभाष घई इन पांचों ज्यूरी ने बैठक करके एक राय से महानायक रजनीकांत को दादा साहब फाल्के अवॉर्ड देने की सिफारिश की।

ये हैं रजनीकांत की फेमस फिल्म

रजनीकांत ने एक से बढ़कर एख फिल्में की हैं। साउथ से लेकर बॉलीवुड तक उनका जलवा कायम है। रजनीकांत की फेमस फिल्मों की बात करें तो वो दरबार, 2।0, द रोबोट, त्यागी, चालबाज, अंधा कानून, कबाली, खून का कर्ज, दोस्ती दुश्मनी, इंसाफ कौन करेगा।

Related posts