UP: अमेरिका में पढ़ रही छात्रा की छेड़खानी से बचने के दौरान सड़क हादसे में मौत, पढ़ाई के लिए मिल रही थी करीब 4 करोड़ की स्कॉलरशिप

चैतन्य भारत न्यूज

अमेरिका में पढ़ने वाली बुलंदशहर की एक होनहार छात्रा की बुलंदशहर में गुंडों की वजह से मौत हो गई। गरीब परिवार की ये बेटी अमेरिका में पढ़ रही थी और छुट्टियों मे घर आई थी। जानकारी के मुताबिक, वह अपने चाचा और भाई के साथ बाइक पर मामा के घर जा रही थी। इस दौरान बुलेट पर सवार कुछ मनचले उनका पीछा करने लगे और सड़क हादसे में छात्रा की मौत हो गई।

परिजनों के मुताबिक, सुदीक्षा भाटी (19) अपने भाई के साथ बाइक पर जा रही थी और कुछ बदमाशों ने बाइक से उनके आगे-पीछे घूम-घूमकर सुदीक्षा से छेड़छाड़ शुरू कर दी। मनचले तेज रफ्तार में बुलेट चलाते हुए छात्रा पर कमेंट कर रहे थे। इस दौरान वो स्टंट भी कर रहे थे। बहन को बचाने के चक्कर में भाई ने बाइक आगे बढ़ाई तो कुछ दूर जाकर इन मनचलों ने अपनी बुलेट को अचानक ब्रेक लगा दिया जिससे उनकी बाइक बुलेट से टकरा गई। जिसके बाद सुदीक्षा और उसका भाई दोनों नीचे जा गिरे। सुदीक्षा का सिर सीधे सड़क पर जा लगा जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। हादसे के तुरंत बाद टक्कर मारने वाला मौके से फरार हो गया।

बेटी की मौत के बाद परिवार पूरी तरह से टूट गया है। छात्रा का अंतिम संस्कार कर दिया गया है। परिजनों ने बताया कि, सुदीक्षा अमेरिका में बीबीए की पढ़ाई कर रही थी। वहां की सरकार ने छात्रा को 3.80 करोड़ रुपए की स्कॉलरशिप दी थी। सुदीक्षा ने बुलंदशहर के विद्या ज्ञान स्कूल से इंटरमीडिएट की पढ़ाई की थी। इंटर में 98 फीसदी अंक हासिल किए थे। कोरोना वायरस के कारण सुदीक्षा 14 मार्च को अमेरिका से भारत आ गई थीं। तब से अपने घर पर ही थीं। 16 अगस्त को उन्हें वापस अमेरिका जाना था।

सुदीक्षा के पिता की चाय की दुकान थी। वही परिवार का पालन पोषण कर रहे थे। सुदीक्षा की तीन बहन और दो भाई हैं। वह सबसे बड़ी थी। सभी को उम्मीद थी कि पढ़ाई पूरी करने के बाद वह घर की जिम्मेदारी संभालेंगी। तीन साल की पढ़ाई पूरी हो चुकी थी, लेकिन सुदीक्षा की मौत ने परिवार के सपनों को चकनाचूर कर दिया।

Related posts