हैदराबाद एनकाउंटर पर CJI बोबडे का बड़ा बयान, कहा- बदले की भावना से किया गया न्‍याय, इंसाफ नहीं

justice bobde

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. हैदराबाद में सामूहिक दुष्कर्म के आरोपितों के एनकाउंटर पर सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस शरद अरविंद बोबडे ने बड़ा बयान दिया है। जोधपुर में एक कार्यक्रम के दौरान जस्टिस बोबडे ने कहा कि, ‘न्याय कभी भी आनन-फानन में किया नहीं जाना चाहिए।’ उन्होंने यह भी कहा कि, ‘यदि न्याय बदले की भावना से किया जाए तो अपना मूल चरित्र खो देता है।’



जोधपुर में राजस्थान हाईकोर्ट की नई इमारत के उद्घाटन समारोह में जस्टिस बोबडे ने कहा कि, ‘मैं नहीं समझता हूं कि न्याय कभी भी जल्दबाजी में किया जाना चाहिए, मैं समझता हूं कि अगर न्याय बदले की भावना से किया जाए तो ये अपना मूल स्वरूप खो देता है।’ उन्होंने कहा कि न्याय को कभी भी बदले का रूप नहीं लेना चाहिए।

क्या है मामला

बता दें तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में एक महिला पशु चिकित्सक के साथ चार दरिंदों ने सामूहिक दुष्कर्म किया और फिर उसे जिंदा जला दिया था। शुक्रवार को पुलिस ने एनकाउंटर कर चारों आरोपितों को मार गिराया। दरअसल, आरोपित
हैदराबाद से करीब 50 किलोमीटर दूर शादनगर के पास चटनपल्ली में पुलिस के हथियार छीनने की कोशिश के बाद भाग रहे थे। इस दौरान पुलिस ने आत्मरक्षा के लिए चारों को मार गिराया। जानकारी के मुताबिक, पुलिस आरोपितों को दुष्कर्म की रात मौका-ए-वारदात का क्राइम सीन समझने के लिए वो इन आरोपियों को लेकर वहां गई थी।

Related posts