‘चौकीदार चोर है’ वाला बयान देकर बुरे फंसे राहुल गांधी, सुप्रीम कोर्ट ने भेजा अवमानना नोटिस

rahul gandhi,supreme court

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को ‘चौकीदार चोर है’ वाले बयान पर अफसोस जताया था बावजूद इसके उनकी मुश्किलें कम होती दिखाई नहीं दे रही हैं। मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट ने इस बयान को लेकर राहुल को अवमानना नोटिस भेजा है। आज कोर्ट में इस मामले को लेकर सुनवाई हुई थी। इस दौरान राहुल के खिलाफ बीजेपी सांसद मीनाक्षी लेखी की तरफ से पेश वकील मुकुल रोहतगी ने कोर्ट को कहा कि, ‘राहुल गांधी ने अपने बयान सिर्फ खेद जताया है, माफी नहीं मांगी है।’

बता दें इस बयान को लेकर कोर्ट ने पहले राहुल से स्पष्टीकरण मांगा था और अब अवमानना नोटिस जारी किया है। अब इस मामले की अगली सुनवाई 30 अप्रैल को होगी। गौरतलब है कि, राहुल ने सोमवार को अपने बयान पर खेद जताते हुए कहा था कि, उन्होंने चुनाव प्रचार के जोश में ऐसा कह दिया था। उनकी मंशा गलत टिप्पणी कर अदालत की अवमानना करने की नहीं थी।

बता दें राहुल ने अदालत का हवाला देकर कहा था कि, ‘अब तो शीर्ष अदालत भी मानती है कि ‘चौकीदार चोर है’। राहुल द्वारा ये विवादित बयान देने के बाद मिनाक्षी लेखी ने उनके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में अवमानना याचिका दाखिल की थी। इसके बाद 15 अप्रैल को अदालत ने ये स्पष्ट किया था कि, राफेल पर उसके फैसले में ऐसा कुछ भी नहीं था, जिसके हवाले से यह कहा जा सके कि ‘चौकीदार चोर हैं’।

ये भी पढ़े…

सुप्रीम कोर्ट ने राहुल गांधी को भेजा नोटिस, चौकीदार चोर है बयान पर मांगा जवाब

Related posts