21 विपक्षी पार्टियों की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग को नोटिस जारी कर मांगा जवाब

चैतन्य भारत न्यूज।

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव 2019 में पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था को लेकर 21 विपक्षी पार्टियों की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। चुनाव आयोग से सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि अगली सुनवाई में चुनाव आयोग का एक अधिकारी कोर्ट में मौजूद रहे। बता दें अगली सुनवाई 25 मार्च को होगी।

याचिकाः ईवीएम के नतीजों को वीवीपैट से मिलान करें

दरअसल विपक्ष के 21 दलों ने सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दाखिल कर मांग की थी कि 50 फीसद ईवीएम के नतीजों को वीवीपैट से मिलान करें और उसी के बाद नतीजों की घोषणा करें। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अध्यक्षता में इस मामले की सुनवाई हुई।

याचिकाकर्ताओं में शामिल…

याचिकाकर्ताओं में शरद पवार, केसी वेणुगोपाल, डेरेक ऑब्रान, शरद यादव, अखिलेश यादव, सतीश चंद्र मिश्रा, एमके स्टालिन, टीके रंगराजन, मनोज कुमार झा, फारुख अब्दुल्ला, एस एस रेड्डी, कुमार दानिश अली, अजीत सिंह, मोहम्मद बदरुद्दीन अजमल, जीतन राम मांझी, प्रोफेसर अशोक कुमार सिंह आदि शामिल हैं।

Related posts