सुप्रीम कोर्ट जल्द ही हिंदी समेत 6 क्षेत्रीय भाषाओं में उपलब्ध कराएगा फैसले की कॉपी

supreme court,supreme court judgement,supreme court decision

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. देश की सर्वोच्च अदालत सुप्रीम कोर्ट के फैसले अब अंग्रेजी के साथ-साथ हिंदी समेत अन्य 6 क्षेत्रीय भाषाओं में भी उपलब्ध होंगे। बता दें अब तक सुप्रीम कोर्ट के सभी फैसले अंग्रेजी भाषा में ही उपलब्ध किए जाते रहे हैं जिससे अंग्रेजी न जानने वाले लोगों को फैसला समझना मुश्किल होता है। इसलिए सुप्रीम कोर्ट ने यह फैसला किया है कि इस महीने के आखिर में हिंदी समेत 6 भाषाओं में कोर्ट के फैसले आधिकारिक वेबसाइट पर अपलोड होंगे।

आने वाले समय में सुप्रीम कोर्ट के फैसलों की कॉपी अंग्रेजी के अलावा हिंदी, मराठी, कन्नड़, असमिया, उड़िया और तेलुगु जैसी क्षेत्रीय भाषाओं में भी आएगी। सूत्रों के मुताबिक, सुप्रीम कोर्ट ने फैसलों का हिंदी और अन्य क्षेत्रीय भाषाओं में अनुवाद के लिए पूरी तैयारी कर ली है। जानकारी के मुताबिक, चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने इस संबंध में इनहाउस इलेक्ट्रॉनिक सॉफ्टवेयर विंग द्वारा तैयार सॉफ्टवेयर को हरी झंडी भी दे दी है। इस पर पिछले कुछ समय से काम चल रहा था। कुछ महीनों पहले गोगोई ने कहा था कि, हिंदी समेत क्षेत्रीय भाषाओं में भी फैसले वेबसाइट पर उपलब्ध कराने की प्रक्रिया चल रही है।

बता दें इस प्रक्रिया के लागू होने के बाद सुप्रीम कोर्ट विश्व का ऐसा पहला कोर्ट बन जाएगा जिसमें इतनी भाषाओं में फैसले अनुदित होंगे। दुनिया भर की अदालतों में या तो अंग्रेजी में फैसले लिखे जाते हैं या फिर स्थानीय भाषा में। शुरुआत में सिविल मैटर जिनमें दो लोगों के बीच विवाद, आपराधिक मामले, वैवाहिक विवाद आदि मामलों पर दिए गए फैसलों का हिंदी समेत छह अन्य क्षेत्रीय भाषाओं में अनुवाद करने का प्रयास किया जाएगा।

Related posts