कल होगा पांच घंटे लंबा सूर्य ग्रहण, आज रात लग जाएगा सूतक, यहां जानिए ग्रहण से संबंधित अन्य खास बातें

surya grahan

चैतन्य भारत न्यूज

पूरे भारत में 21 जून को कंकण रूप यानी खंडग्रास रूप में सूर्य ग्रहण दिखाई देगा। ये ग्रहण मृगशिरा, आर्द्रा नक्षत्र और मिथुन राशि में लगेगा। यह ग्रहण सूर्य भगवान के दिन रविवार को लग रहा है। इस ग्रहण का असर विभिन्न राशियों पर पड़ेगा। ज्योतिषियों के मुताबिक, ग्रहण पर सूतक काल का विशेष ध्यान रखना चाहिए। आइए जानते हैं इस सूर्य ग्रहण से जुड़ी कुछ खास बातें-

ग्रहण का समय

  • ग्रहण की शुरुआत- सुबह 9:15 बजे से
  • कंकण प्रारंभ -सुबह 10:17 बजे से
  • कंकड़ समाप्त- दोपहर 2:02 बजे
  • ग्रहण समाप्त- दोपहर 3:04 बजे में
  • ग्रहण का कुल समय- 5 घंटा 48 मिनट

सूर्य ग्रहण कहां-कहां दिखाई देगा

पूरे भारत सहित यह सूर्य ग्रहण दक्षिण पूर्वी यूरोप, उत्तरी ऑस्ट्रेलिया, अफ्रीका, अफगानिस्तान, पाकिस्तान, चीन, बर्मा , फिलीपींस में दिखाई देगा।

सूतक का समय

सूर्य ग्रहण का सूतक 20 जून 2020 की रात 9:16 बजे से शुरू होगा और ग्रहण समाप्त होने पर खत्म होगा।

सूर्य ग्रहण पर इन कामों को न करें 

शास्त्रों में ग्रहण के समय को अशुभ माना गया है ऐसे में ग्रहण के दौरान किसी भी प्रकार का शुभ कार्य नहीं किया जाता। ग्रहण के दौरान मंदिरों के पट बंद कर दिए जाते हैं। ग्रहण के समय गर्भवती महिलाओं को घर से बाहर नहीं निकलना चाहिए। ग्रहण में शरीर पर तेल की मालिश नहीं करनी चाहिए। ग्रहण के दौरान और सूतक काल के शुरू होने पर खाने की चीजों में तुलसी के पत्ते डालना चाहिए।

ग्रहण के बाद क्या करें

ग्रहण के खत्म होने के बाद नहाने के पानी में गंगाजल डालकर स्नान करना चाहिए। फिर पूरे घर में गंगाजल का छिड़काव करके भगवान का स्नान करा कर पूजा-पाठ करना चाहिए।

Related posts