साल के आखिरी सूर्यग्रहण पर बना ये खास संयोग, जानें कब और कहां लगेगा सूतक

surya grahan

चैतन्य भारत न्यूज

कब लगेगा सूर्यग्रहण?
साल 2020 का आखिरी सूर्यग्रहण 14 दिसंबर 2020 को शाम 7 बजकर 4 मिनट से मध्य रात्रि रात 12 बजकर 23 मिनट तक (भारतीय समयानुसार) लगने वाला है। ज्योतिशास्त्र के मुताबिक, ग्रहण का मध्य रात्रि 09 बजकर 39 मिनट पर और खग्रास की समाप्ति 11 बजकर 34 मिनट पर होगा जबकि मध्य रात्रि 12 बजकर 23 मिनट पर ग्रहण समाप्त हो जाएगा।

बता दें, भारत में यह ग्रहण दिखाई नहीं देगा। भारत में इस ग्रहण को खंडग्रास माना जा रहा है। खंडग्रास सूर्य ग्रहण में सूतक काल मान्य नहीं होता है, इसलिए इस ग्रहण का विशेष धार्मिक महत्व नहीं होगा। यहां के जनमानस पर भी कोई दोष नहीं लगेगा।

सूर्यग्रहण पर दान का महत्व
सूर्यग्रहण के दिन दान का बहुत महत्व होता है। शास्त्रों के अनुसार सूर्य ग्रहण के दौरान किया गया दान राहु, केतु और शनि के गलत प्रभावों को भी सही करता है। बता दें, 14 दिसंबर यानि आज सूर्यग्रहण के दिन इस बार सोमवती अमावस्या भी पड़ रही है जिसके चलते इसका महत्व और बढ़ गया है। सोमवती अमावस्या के दिन पवित्र नदियों में स्नान करने की परंपरा है, वहीं सूर्य ग्रहण खत्म होने के बाद भी पवित्र नदियों में स्नान करना शुभ माना जाता है।

Related posts