सुशांत के पिता ने रिया चक्रवर्ती के खिलाफ दर्ज करवाई FIR, कहा- करोड़ों रूपए पर थी नजर, ले गई सारा कीमती सामान

चैतन्य भारत न्यूज

सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या मामले में नया मोड़ आ गया है। सुशांत के पिता ने एक्ट्रेस और सुशांत की कथित गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है। उन्होंने रिया के अलावा उनके परिजनों इंद्रजीत चक्रवर्ती, संध्या चक्रवर्ती, शोविक चक्रवर्ती के खिलाफ भी शिकायत दी है। उन्होंने इन सभी पर यह आरोप लगाया है कि रिया और उसके परिजनों ने कामयाबी की बुलंदियों को छू रहे सुशांत से नजदीकियां बढ़ाई ताकि उसके पैसों को हथिया सके।

सुशांत के पिता ने यह FIR पटना के राजीव नगर पुलिस थाने में दर्ज कराई है। के के सिंह ने यह आरोप लगाया है कि रिया ने सुशांत से पैसे लिए और उन्हें सुसाइड के लिए उकसाया है। आईपीसी की धारा 341, 342, 380, 406, 420, 306 के तहत ये केस दर्ज हुआ है।

सुशांत के पिता ने अपने आवेदन में लिखा है कि, मुंबई पुलिस द्वारा जो जांच की जा रही है, उस पर उन्हें भरोसा नही हैं। इसलिए पटना पुलिस से इस मामले में जांच करें। सुशांत के पिता ने अपने बयान में कहा, ‘जब रिया ने देखा कि सुशांत उसकी बात नहीं मान रहा है और उसका बैंक बैलेंस भी कम होता जा रहा है तो रिया को लगा कि अब सुशांत उसके किसी काम का नहीं है।’

उन्होंने अपनी शिकायत में कहा कि रिया से मिलने से पहले सुशांत मानसिक रूप से ठीक था। ऐसा क्यों हुआ कि उसके संपर्क में आने के बाद वह मानसिक रूप से डिस्टर्ब हो गया था? रिया ने अपना मोबाइल नंबर बदलने के लिए उनके बेटे पर दबाव बनाया था ताकि वह अपने करीबी लोगों से बात नहीं कर सके। इतना ही नहीं रिया ने सुशांत के करीबी स्टाफ को भी चेंज करवा दिया था जो उनके लिए काम किया करते थे।

उन्होंने बताया कि रिया ने सुशांत से कहा था कि, ‘अगर मेरी बातें नहीं मानोगे तो मैं मीडिया में तुम्हारी मेडिकल रिपोर्ट दे दूंगी और सबको बता दूंगी की तुम पागल हो। जब रिया को लगा की सुशांत सिंह उसकी बात नहीं मान रहा है और उसका बैंक बैलेंस भी बहुत कम रह गया है, तो रिया ने सोचा कि अब सुशांत उसके किसी काम का नहीं है तो रिया जोकि सुशांत के साथ रह ही थी दिनांक 8/6/20 को शुशांत के घर से काफी सामान कैश, जेवरात, लैपटॉप , पासवर्ड, क्रेडिट कार्ड, उनके पिन नम्बर जिसमें सुशांत के अहम दस्तावेज, ईलाज के सारे कागज लेकर चली गई।’

सुशांत के पिता ने कहा, ‘जाने के बाद उसने मेरे बेटे सुशांत का फोन नम्बर अपने फोन में ब्लॉक कर दिया। इसके बाद सुशांत ने मेरी बेटी को फोन किया। सुशांत ने कहा रिया मुझे कहीं फंसा देगी, वो यहां से काफी सामान लेकर चली गई है। मुझे धमकी देकर गई है कि अगर तुमने मेरी बात नहीं मानीं तो तुम्हारे इलाज के सारे कागज मीडिया को दे दूंगी।’

पटना के एसएसपी उपेंद्र शर्मा के आदेश पर राजीव नगर के थाना प्रभारी को इस केस का आईओ बनाया गया है। इसके साथ ही इस मामले में चार सदस्यीय टीम को मुंबई भेजा गया है। यह टीम मुंबई पुलिस से मिलकर उनसे मामले की केस डायरी के अलावा अन्य जरुरी कागजात हासिल करेगी।

Related posts