सुशांत सिंह राजपूत का केस अब CBI को हुआ ट्रांसफर, केंद्र ने मानी बिहार सरकार की सिफारिश, कहा- सच्चाई आनी चाहिए सामने

चैतन्य भारत न्यूज

सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या के मामले में मंगलवार को बिहार सरकार ने केंद्र सरकार को सीबीआई जांच की सिफारिश केंद्र को भेजी थी। अब केंद्र ने बिहार सरकार के अनुरोध को केंद्र ने स्वीकार कर लिया है। केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट में बताया कि बिहार सरकार की सिफारिश को मंजूर करते हुए जांच सीबीआई को सौंपने जा रहे हैं। अब इस केस की सीबीआई जांच करेगी।

बता दें पिछले लंबे समय से इस मामले में सीबीआई जांच की मांग हो रही थी। केंद्र सरकार के वकील SG तुषार मेहता ने सुप्रीम कोर्ट में कहा कि, ‘इस मामले की जांच सीबीआई से कराने की बिहार सरकार की सिफारिश मान ली गई है।’ वही सुशांत की कथित गर्लफ्रेंड और अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती के वकील श्याम दीवान ने कहा है कि, एसजी की तरफ से जो कहा गया, यहां वह मामला नहीं है, ऐसे में अदालत रिया की याचिका पर गौर करे। साथ ही श्याम दीवान ने सभी मामले पर रोक लगाने की मांग की है। उन्होंने कहा कि, एफआईआर ज्यूरिसडिक्शन के मुताबिक नहीं है। ऐसे में अदालत पूरे मामले पर रोक लगाए।

जस्टिस ऋषिकेश राय ने कहा कि सुशांत काफी टैलेंटेड और उभरते हुए कलाकार थे और उनकी रहस्यमयी तरीके से मौत हो जाना चौंकाने वाला है। जस्टिस ऋषिकेश राय ने कहा कि यह जांच का विषय है।

सुशांत मामले में मुंबई पुलिस के साथ-साथ बिहार पुलिस भी जांच में जुटी है। बिहार पुलिस मुंबई पहुंची और खुद जाकर पूछताछ करने लगी। रिया के वकील श्याम दीवान ने कहा बिहार में दर्ज FIR को मुम्बई ट्रांसफर किया जाना चाहिए। श्याम दीवान ने दलील देते हुए कहा कि सुशांत की मौत के मामले में मुंबई पुलिस अब तक 59 लोगों की गवाही दर्ज कर चुकी है।

गौरतलब है कि सुशांत सिंह राजपूत की 14 जून को मौत हो गई। उन्होंने फांसी लगाकर अपनी जान दे दी थी। सुशांत की मौत के बाद से हर कोई सीबीआई जांच की मांग कर रहा था।

Related posts