सागर हत्याकांडः लॉकअप में फूट-फूटकर रोते रहे सुशील कुमार, गैंगस्टर कनेक्शन पर कुछ बताने को तैयार नहीं

चैतन्य भारत

सागर धनखड़ हत्या के मामले में गिरफ्तार ओलंपिक पदक विजेता रेसलर सुशील कुमार से क्राइम ब्रांच द्वारा पूछताछ की जा रही है। देश के लिए ओलंपिक में दो बार गोल्ड मेडल दिलाने वाले सुशील कुमार जिस हिम्मत और ताकत से साथी खिलाड़ियों पर भारी पड़ते दिखता था वह आज लाखों के पीछे पहुंचते ही टूट गया। पूछताछ के दौरान सुशील कुमार फूट फूटकर रोने लगा। उसे अपनी गलती का अहसास हो रहा है और थाने में सिर झुकाकर रह रहा है।

गैंगेस्टर कनेक्शन में मुंह खोलने को तैयार नहीं सुशील

हालांकि, गैंगेस्टर के साथ संबंधों को लेकर सुशील कुमार मुंह खोलने को तैयार नहीं हैं। क्राइम ब्रांच के आला अधिकारियों के मुताबिक, सुशील कुमार जांच में सहयोग नहीं कर रहे हैं। सूत्रों के मुताबिक, अब गिरफ्तार किए गए चार आरोपियों को सामने बैठाकर पूछताछ की जाएगी।

अब तक 7 लोग गिरफ्तार

बता दें सागर हत्याकांड में दिल्ली पुलिस ने काला असौदा-नीरज बवाना गैंग के चार सदस्यों को गिरफ्तार किया है। भूपेंद्र, मोहित, गुलाब और मंजीत ने पूछताछ के दौरान सागर की हत्या की पूरी साजिश और घटनाओं के क्रम का खुलासा किया है। अब तक इस केस में सुशील कुमार समेत सात आरोपी गिरफ्तार किए जा चुके हैं।

जागकर बिताई रात

जानकारी के अनुसार, आम अपराधी की तरह उसे दि फर्श पर बैठाया। वह सिर झुकाए बैठा था। पुलिस अधिकारी के सामने वह बच्चों की तरह रो रहा था। आधे घंटे तक सुबकने के बाद उसे जांच अधिकारी के कमरे में बैठाया गया। क्राइम ब्रांच की हिरासत में सुशील ने पूरी रात जागकर बिताई। यहां तक कि उसने भोजन करने से भी मना कर दिया। वह रात में भी कई बार रोया।

सिर्फ डराना चाहते थे

सुशील कुमार ने बताया कि वह सागर को सिर्फ डराना चाहता था। इसलिए पिटाई की थी। हथियार भी इसीलिए लाए गए थे। इस पूरी घटना का वीडियो खौफ पैदा करने के लिए बनवाया। गया था। उसने बताया कि घटना के बाद भी वह छत्रसाल स्टेडियम में ही था। लेकिन जब सागर की मौत की सूचना मिली तो वह भाग गया। दिल्ली लौटने पर सुशील ने एक महिला मित्र से स्कूटी मांगी थी।

 पहलवान सुशील कुमार मर्डर केस में गिरफ्तार, पढ़े सागर हत्याकांड की पूरी कहानी

Related posts