पीड़ित छात्रा ने SIT को सौंपे चिन्मयानंद के 43 अश्लील वीडियो, कहा- मेरे नहाने का बनाया था वीडियो

chinmayananad

चैतन्य भारत न्यूज

उत्तरप्रदेश के जौनपुर लोकसभा सीट से बीजेपी से तीन बार सांसद और गृह राज्य मंत्री रहे स्वामी चिन्मयानंद की मुसीबतें हर दिन बढ़ती ही जा रही हैं। चिन्मयानंद पर दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली छात्रा ने अब विशेष जांच दल (एसआइटी) को 64 जीबी की एक पेन ड्राइव दी है जिसमें 43 वीडियो क्लिप हैं। यह वीडियो क्लिप चिन्मयानंद व छात्रा से जुड़े हुए हैं। छात्रा ने कहा कि, हर वीडियो में चिन्मयानंद के खिलाफ कुछ न कुछ है।



छात्रा ने यह वीडियो हिडन कैमरे से बनाए हैं। छात्रा ने यह उम्मीद जताई है कि इन वीडियो के जरिए उसे न्याय मिलेगा। छात्रा ने बताया कि, वह शाहजहांपुर के एसएस लॉ कॉलेज में पढ़ रही थी, जिसके चेयरमैन चिन्मयानंद हैं। उनका घर कॉलेज कैंपस में ही था। जब भी चिन्मयानंद मसाज करने के लिए उसे अपने घर बुलाते थे तो वो वहां हिडन कैमरा लेकर जाती थी। जब उसने इंटरनेट पर हिडन कैमरे की खोज कि तो उसमें पेन, ब्रेसलेट और चश्मे जैसी चीजें मिली। फिर उसने चश्मे को चुना। चिन्मयानंद के घर वह मोबाइल नहीं ले जा सकती थी, इसलिए चश्मे वाला हिडन कैमरा लेकर जाती थी ताकि किसी को शक न हो।

इतना ही नहीं बल्कि छात्रा ने चिन्मयानंद पर यह भी आरोप लगाया कि, उन्होंने नहाते वक्त उसका वीडियो भी बनाया था। इसके बाद चिन्मयानंद वीडियो वायरल करने की धमकी देकर उसके साथ लगातार दुष्कर्म कर रहा और बाद में कैमरे से वीडियो भी गायब करा दिए। इसलिए छात्रा ने यह मांग की है कि चिन्मयानंद के खिलाफ चल रहे मामलों में दुष्कर्म के साक्ष्यों को नष्ट करने की धाराएं भी बढ़ाई जाए।

बता दें एसआइटी इस पूरे मामले पर जांच कर सभी सबूतों को जुटाने और संबंधित लोगों से पूछताछ करने के बाद 23 सितंबर को अपनी रिपोर्ट हाईकोर्ट में सौंपेगी। गौरतलब है कि चिन्मयानंद पर दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली छात्रा 9 सितंबर को मीडिया के सामने आई थी। उसने चिन्मयानंद के खिलाफ रेप का मामला दर्ज करने की मांग की थी।

ये भी पढ़े…

चिन्मयानंद पर यौन शोषण का आरोप लगाने वाली छात्रा बरामद, सुप्रीम कोर्ट ने उसे पेश करने के निर्देश दिए

पूर्व केंद्रीय मंत्री स्वामी चिन्मयानंद पर लगा शारीरिक शोषण का आरोप, लापता हुई पीड़िता तो भड़कीं प्रियंका गांधी

Related posts