रक्षाबंधन 2021 : राशि के अनुसार भाई की कलाई पर बांधे राखी, जानिए किस रंग की राखी होगी शुभ

raksha bandhan,raksha bandhan ka mahatv,raksha bandhan shubh muhurat,rashi ke anusaar rakhi

चैतन्य भारत न्यूज रक्षाबंधन के त्योहार के महज कुछ ही दिन बचें हैं। ऐसे में बहनों ने अपने भाई के कलाई को सजाने के लिए राखी की तैयारी करनी शुरू कर दी है। इस साल रक्षाबंधन का त्योहार 22 अगस्त को मनाया जाएगा। रक्षाबंधन के दिन बहने भगवान से अपने भाईयों की तरक्की के लिए प्रार्थना करती है। आज हम आपको बताने जा रहे हैं, राशि के अनुसार कौन से रंग की राखी आपके भाई के लिए शुभ होगी। मेष- अगर आपके भाई की राशि मेष है तो आपको अपने भाई…

Read More

आज है रक्षाबंधन, जानिए इस पर्व का महत्व और राखी बांधने का शुभ मुहूर्त

raksha bandhan,raksha bandhan ka mahatv,raksha bandhan shubh muhurat,kis samay bandhe rakhi,raksha bandhan sate and time

चैतन्य भारत न्यूज हर भाई-बहन के लिए रक्षाबंधन का त्योहार बेहद खास होता है। रक्षाबंधन सिर्फ त्‍योहार नहीं बल्‍कि एक ऐसी भावना है जो रेशम की कच्‍ची डोरी के जरिए भाई-बहन के प्‍यार को हमेशा-हमेशा के लिए संजोकर रखती है। रक्षाबंधन हिन्‍दू धर्म के बड़े त्‍योहारों में से एक है। इस दिन राखी बांधकर बहनें अपने भाइयों की लंबी उम्र और सुख की कामना करती हैं। तो आइए जानते हैं रक्षाबंधन का महत्व और शुभ मुहूर्त। रक्षाबंधन का महत्व यह हिन्‍दू धर्म के सभी त्‍योहारों में से एक है। इस…

Read More

रक्षाबंधन: बाजार में मिल रही नकली मिठाइयों से सावधान, ऐसे करें नकली और असली मावे की पहचान

चैतन्य भारत न्यूज रक्षा बंधन त्यौहार की तैयारियां जोरशोर से चल रही है। भाई-बहन के प्यार का प्रतीक रक्षा बंधन इस साल रविवार, 22 अगस्त को मनाया जाएगा। रक्षा बंधन पर मिठाइयों की खरीदारी काफी बढ़ जाती है। लेकिन क्या आप जानते हैं त्योहारों के सीजन में नकली मिठाई या नकली मावे का कारोबार भी तेज रहता है। इसलिए इनकी खरीदारी के समय समझदारी दिखाना बहुत जरूरी हो जाती है। आइए आपको बताते हैं कि आप असली-नकली का फर्क कैसे पता लगा सकते हैं। 1. खोए के जरा से टुकड़े…

Read More

लंकापति रावण से जुड़ा है वैद्यनाथ ज्योतिर्लिंग का संबंध, जानिए इसकी विशेषता और महत्व

vaidyanath jyotirlinga,vaidyanath jyotirlinga ka mahatav,vaidyanath jyotirlinga ki viseshta, sawan,bhagwan shiv,vaidyanath mandir,kese jaaye vaidyanath jyotirlinga,vaidyanath jyotirlinga ka rahsya

चैतन्य भारत न्यूज सावन के महीने में भगवान शिव की विशेष पूजा की जाती है। इस महीने में शिवभक्त भोले बाबा के प्रति अपना प्रेम और श्रद्धा व्यक्त करने के लिए अलग-अलग कार्य करते हैं। मान्यता है कि, सावन महीने में जो भी भक्त भगवान शिव के 12 ज्योतिर्लिंग का नाम जपता है उसके सातों जन्म तक के पाप नष्ट हो जाते हैं। इन्हीं में से एक है वैद्यनाथ ज्योतिर्लिंग जिसे प्रमुख माना गया है। आइए जानते हैं वैद्यनाथ ज्योतिर्लिंग की विशेषता के बारे में। वैद्यनाथ ज्योतिर्लिंग का महत्व भगवान…

Read More

भीमाशंकर ज्योतिर्लिंग के दर्शन से सातों जन्म के पाप हो जाते हैं नष्ट, जानिए इसका महत्व और विशेषता

bhimashankar jyotirlinga ,bhimashankar jyotirlinga ka mahtav,bhimashankar jyotirlinga ki viseshta,bhagwaan shiv, kaha hai bhimashankar jyotirlinga

चैतन्य भारत न्यूज सावन के महीने में भगवान शिव की विशेष पूजा की जाती है। इस महीने में शिवभक्त भोले बाबा के प्रति अपना प्रेम और श्रद्धा व्यक्त करने के लिए अलग-अलग कार्य करते हैं। मान्यता है कि, सावन महीने में जो भी भक्त भगवान शिव के 12 ज्योतिर्लिंग का नाम जपता है उसके सातों जन्म तक के पाप नष्ट हो जाते हैं। इन्हीं में से एक है भीमाशंकर ज्योतिर्लिंग जिसे प्रमुख माना गया है। आइए जानते हैं भीमाशंकर ज्योतिर्लिंग की विशेषता के बारे में। भीमाशंकर ज्योतिर्लिंग का महत्व भगवान…

Read More

रक्षाबंधन 2021 : जानिए क्यों मनाते हैं रक्षाबंधन का त्योहार और कैसे हुई इसकी शुरुआत

raksha bandhan ki pauranik katha,raksha bandhan,raksha bandhan ka mahatv,raksha bandhan ki shuruaat,raksha bandhan date nad time,independence day,independence day 2019

चैतन्य भारत न्यूज इस बार 22 अगस्त को देशभर में रक्षाबंधन का त्योहार मनाया जाएगा। यह त्‍योहार भाई-बहन के अटूट रिश्‍ते, बेइंतहा प्‍यार, त्‍याग और समर्पण को दर्शाता है। भाई-बहन के प्रतीक रक्षाबंधन का त्योहार सदियों से मनाया जा रहा है और इससे जुड़े तमाम किस्से और कहानियां भी हैं। पौराणिक मान्‍यताओं के मुताबिक रक्षाबंधन मनाने के पीछे कई कथाएं प्रचलित हैं। श्रीकृष्‍ण-द्रौपदी की कथा भगवान श्री कृष्ण और द्रौपदी की कहानी भी काफी लोकप्रिय है। जब कृष्ण ने सुदर्शन चक्र से शिशुपाल का वध किया तब उनकी तर्जनी अंगुली…

Read More

एकमात्र ज्योतिर्लिंग जहां शयन के लिए आते हैं महादेव, जानें ओंकारेश्वर ज्योतिर्लिंग का महत्व और विशेषता

omkareshwar yotirling ,omkareshwar yotirling ka mahatav,omkareshwar yotirling ki viseshta,bhagawan shiv,sawan 2019

चैतन्य भारत न्यूज सावन के महीने में भगवान शिव की विशेष पूजा की जाती है। इस महीने में शिवभक्त भोले बाबा के प्रति अपना प्रेम और श्रद्धा व्यक्त करने के लिए अलग-अलग कार्य करते हैं। मान्यता है कि, सावन महीने में जो भी भक्त भगवान शिव के 12 ज्योतिर्लिंग का नाम जपता है उसके सातों जन्म तक के पाप नष्ट हो जाते हैं। इन्हीं में से एक है ओंकारेश्वर ज्योतिर्लिंग जिसे प्रमुख माना गया है। आइए जानते है ओंकारेश्वर ज्योतिर्लिंग की विशेषता के बारे में। ओंकारेश्वर ज्योतिर्लिंग का महत्व भगवान…

Read More

आज है पुत्रदा एकादशी, जानिए इस व्रत का महत्व और पूजा विधि

चैतन्य भारत न्यूज हिंदू धर्म के मुताबिक सभी व्रतों में सर्वाधिक महत्वपूर्ण व्रत पुत्रदा एकादशी का होता है। पुत्रदा एकादशी को साल में दो बार आती है। हिंदू कैलेंडर के अनुसार, हर महीने की ग्यारहवीं तिथि को एकादशी कहा जाता है। साल की पहली पुत्रदा एकादशी को पौष पुत्रदा एकादशी या पौष शुक्ल पुत्रदा एकादशी कहते हैं। यह एकादशी दिसंबर या जनवरी महीने में आती है। दूसरी पुत्रदा एकादशी को श्रावण पुत्रदा एकादशी कहते हैं। यह जुलाई या अगस्त के महीने में आती है। इस बार पुत्रदा एकादशी 18 अगस्त 2021…

Read More

संतान प्राप्ति के लिए किया जाता है पुत्रदा एकादशी व्रत, जानिए इसका महत्व और पूजा-विधि

putrada ekadashi, putrada ekadashi ka mahatava, posh putrada ekadashi

चैतन्य भारत न्यूज हिंदू धर्म के मुताबिक सभी व्रतों में सर्वाधिक महत्वपूर्ण व्रत पुत्रदा एकादशी का होता है। पुत्रदा एकादशी को साल में दो बार आती है। हिंदू कैलेंडर के अनुसार, हर महीने की ग्यारहवीं तिथि को एकादशी कहा जाता है। साल की पहली पुत्रदा एकादशी को पौष पुत्रदा एकादशी या पौष शुक्ल पुत्रदा एकादशी कहते हैं। यह एकादशी दिसंबर या जनवरी महीने में आती है। दूसरी पुत्रदा एकादशी को श्रावण पुत्रदा एकादशी कहते हैं। इस बार पुत्रदा एकादशी 18 अगस्त को है। इस तिथि पर भगवान विष्णु के लिए…

Read More

51 शक्तिपीठों में से एक है मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग, जानिए इसका इतिहास और महत्व

mallikarjun jyotirling,,mallikarjuna jyotirlinga ka mahatav,mallikarjuna jyotirlinga ka itihas

चैतन्य भारत न्यूज  सावन के पावन महीने में भगवान शिव की आराधना की जाती है। इस महीने में भगवान शिव के 12 ज्योतिर्लिंग का पूजन करना बेहद शुभ माना जाता है। आज हम आपको दूसरे ज्योतिर्लिंग यानी मल्लिकार्जुन की विशेषता के बारे में बताएंगे। मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग का महत्व भगवान शिव के प्रमुख 12 ज्योतिर्लिंगों में मल्लिकार्जुन का स्थान दूसरा है। मल्लिकार्जुन दो शब्‍दों के मेल से बना है जिसमें ‘मल्लिका’ माता पार्वती का नाम है, जबकि ‘अर्जुन’ भगवान शंकर को कहा जाता है। इसलिए भगवान शिव को मल्लिकार्जुन के रूप…

Read More