BreastFeeding Week : 5 में से 3 नवजात को जन्म के 1 घंटे के भीतर नहीं मिल पाता मां का दूध : यूनिसेफ

world breastfeeding week,mother milk bank

चैतन्य भारत न्यूज मां का दूध बच्चे के लिए अमृत समान है। जन्म से लेकर 6 महीने तक बच्चों को सिर्फ मां का दूध ही पिलाना चाहिए। मां का दूध कितना जरुरी होता है यह इन दिनों सरकारी विज्ञापनों के जरिए भी दिखाया जाने लगा है। दुनियाभर में 1 से 7 अगस्त तक ‘ब्रेस्ट फीडिंग वीक’ मनाया जाता है। बच्चों के लिए काम करने वाली संस्था यूनिसेफ (संयुक्त राष्ट्र बाल कोष) ने ब्रेस्टफीडिंग को लेकर एक रिपोर्ट तैयार की है जिसके नतीजे चौंकाने वाले हैं… यूनिसेफ की रिपोर्ट यूनिसेफ और…

Read More

Breastfeeding Week : सीजेरियन ऑपरेशन के बाद थोड़ा मुश्किल लेकिन सभी के लिए फायदेमंद है स्तनपान

breastfeeding,breastfeeding week

चैतन्य भारत न्यूज चिकित्सा इतिहास में संभवतः सीजेरियन ही एक ऐसा ऑपरेशन होता है जो दर्द से अधिक खुशी देता है। एक नए जीवन को जन्म देने की खुशी। एक नए जीवन को गढ़ने की खुशी। इस ऑपरेशन को लेकर एक मां के मन में कई तरह के प्रश्न हो सकते हैं। प्रस्तुत है चैतन्य भारत की विशेष श्रृंखला में सीजेरियन के बाद स्तनपान से जुड़ी कुछ प्रमुख बातें…. सीजेरियन के दौरान दिए जाने वाले एनेस्थीसिया और दर्द की दवाओं का दूध उत्पादन या उसकी गुणवत्ता पर कोई प्रभाव नहीं…

Read More

Breastfeeding Week : बिना उचित कारण के शिशु को स्तनपान न कराने पर लग सकता है जुर्माना और सजा

breastfeeding,world breastfeeding week

चैतन्य भारत न्यूज शिशुओं के लिए स्तनपान उनका मौलिक अधिकार है। यह अधिकार उनको शिशु दुग्ध अनुकल्प, पोषण बोतल और शिशु खाद्य अधिनियम (ईएमएस), 2003 के तहत मिलता है। ईएमएस अधिनियम का उल्लंघन करने पर 5000 रुपए जुर्माना और दो साल जेल भेजने का भी प्रावधान है। इस अधिनियम के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए सरकारी स्तर पर प्रयास किए जा रहे हैं। विश्व स्तनपान सप्ताह के मौके पर चैतन्य भारत न्यूज की विशेष प्रस्तुति… सिर्फ इन्हीं परिस्थितियों में स्तनपान न कराने की अनुमति है.. मां की मृत्यु हो…

Read More

Breastfeeding Week : बच्चे को स्तनपान करवाने का बौद्धिक और आर्थिक महत्व भी

breastfeeding week,breastfeeding importance

चैतन्य भारत न्यूज बच्चे के जीवन को स्वस्थ और बेहतर बनाने के लिए स्तनपान बेहद जरुरी है। यह बच्चे को सभी प्रकार के कुपोषण से बचाता है और साथ ही संकट के समय में बच्चों के लिए खाद्य सुरक्षा को भी सुनिश्चित करता है। हर साल 1-7 अगस्त तक विश्व स्तनपान सप्ताह मनाया जाता है। इस खास मौके पर चैतन्य भारत न्यूज की विशेष प्रस्तुति… Breastfeeding Week : ब्रेस्टफीडिंग वीक मनाने के पीछे है बेहद खास वजह, जानिए स्तनपान करवाने के फायदे स्तनपान बौद्धिक क्षमता से जुड़ा है। स्तनपान करने…

Read More

BreastFeeding Week : ब्रेस्टफीडिंग से जुड़े ये 6 मिथ जिन पर कभी न करें विश्वास

breastfeeding,breast feeding myth

चैतन्य भारत न्यूज दुनियाभर के करीब 120 देश हर साल 1 से 7 अगस्त तक ‘वर्ल्ड ब्रेस्टफीडिंग वीक’ मनाते हैं। इस सप्ताह को मनाने का खास उद्देश्य महिलाओं को स्तनपान के प्रति जागरूक करना है। लेकिन ब्रेस्ट फीडिंग से जुड़े कई ऐसे मिथ हैं जो ज्यादातर महिलाओं के मन में आते हैं। इस बार वर्ल्ड ब्रेस्टफीडिंग वीक के मौके पर हम आपको ब्रेस्ट फीडिंग से जुड़े कुछ ऐसे मिथ के बारे में बता रहे हैं जिनपर विश्वास करना गलत है। ब्रेस्ट फीडिंग से जुड़े मिथ ब्रेस्ट साइज ज्यादातर महिलाओं का…

Read More

Breastfeeding Week : ब्रेस्टफीडिंग वीक मनाने के पीछे है बेहद खास वजह, जानिए स्तनपान करवाने के फायदे

best feeding week 2019, breast feeding

चैतन्य भारत न्यूज मां बनना दुनिया का सबसे खूबसूरत एहसास होता है। वो सभी अनुभव भी खास होते हैं जो मां बनने की अनुभूति कराते हैं। इन्हीं अनुभवों में से एक होता है ब्रेस्ट फीडिंग। बता दें ब्रेस्ट फीडिंग का मतलब है मां का अपने बच्चे को स्तनपान करवाना। आज से दुनियाभर में ‘ब्रेस्ट फीडिंग वीक’ मनाने की शुरूआत हो चुकी है। हर साल 1 से 7 अगस्त तक ‘ब्रेस्ट फीडिंग वीक’ मनाया जाता है। इस खास सप्ताह चैतन्य भारत न्यूज.कॉम की विशेष प्रस्तुति। क्यों मनाया जाता है ब्रेस्ट फीडिंग…

Read More

खूबसूरती न घट जाए इसलिए निर्दयी मां ने एक महीने की बेटी को स्तनपान कराने से किया मना

mother denied daughter for breast feeding,madhyapradesh

चैतन्य भारत न्यूज भोपाल. मध्यप्रदेश के डिंडौरी से हाल ही में एक हैरान करने वाला मामला सामना आया है। यहां एक मां ने अपनी नवजात बेटी को सिर्फ इसलिए स्तनपान कराने से मना कर दिया क्योंकि इससे उसके चेहरे की रंगत चली जाएगी। इतना ही नहीं बच्ची सुंदर नहीं है ये कहकर मां उसे दादी के पास ही छोड़कर चली गई। खूबसूरत बच्ची चाहती थी महिला  मामला बिलाई खार गांव का है। यहां एक वृद्धा अपनी एक माह की पोती को अस्पताल लेकर गई। 34 दिन की बच्ची तेज बुखार…

Read More