सुनसान सड़क पर पंक्चर हुई गाड़ी, बहन को फोन पर कहा- मुझे डर लग रहा है, सुबह मिली जली हुई लाश

priyanka reddy

चैतन्य भारत न्यूज

हैदराबाद. गुरुवार को हैदराबाद के शादनगर कस्बे में एक युवती का जला हुआ शव मिलने से सनसनी फैल गई। 26 वर्षीय मृतक महिला की पहचान एक पशु चिकित्सक के तौर पर हुई है। शुरुआती जांच में दुष्कर्म के बाद हत्या की बात सामने आ रही है।

क्या है पूरा मामला

जानकारी के मुताबिक, बुधवार को महिला चिकित्सक अपने घर शम्शाबाद से कोल्लुरु स्थित पशु चिकित्सालय गई थीं और शाम को करीब 6 बजे वहां से लौट रही थीं। महिला चिकित्सक हर दिन अपनी स्कूटी हैदराबाद-बेंगलुरु हाईवे पर स्थित टोंडुपल्ली टोल प्लाजा पर पार्क करती थी और वहां से कैब लेकर अस्पताल पहुंचती थी। बुधवार रात जब वह अस्पताल से टोल प्लाजा पहुंची तो उन्हें अपनी स्कूटी पंक्चर मिली। इसके बाद महिला चिकित्सक ने मदद के ल‍िए अपने पर‍िचतों को फोन लगाया क‍ि उनकी स्कूटी पंक्चर हो गई है। साथ ही महिला चिकित्सक ने अपनी बहन को भी फोन किया और इसकी जानकारी दी। महिला चिकित्सक ने बहन को कहा कि, उन्हें काफी डर लग रहा है… आसपास काफी अजनबी लोग हैं जो उन्हें घूर रहे हैं। इसके बाद बहन ने उन्हें स्कूटी छोड़कर कैब से आने की सलाह दी।

आरोपितों ने की मदद की पेशकश 

तभी कुछ लोगों ने मदद की पेशकश की, जिसके बाद महिला चिकित्सक बहन से बाद में बात करने का कहकर फोन काट देती हैं। फिर महिला चिकित्सक ने कुछ देर बाद दोबारा बहन को फोन कर बताया कि, मदद की पेशकश करने वाला व्यक्ति कह रहा है कि आसपास की सभी दुकानें बंद हैं और पंक्चर ठीक करवाने के लिए गाड़ी को कहीं और ले जाना होगा। कुछ देर बाद उनका मोबाइल बंद हो जाता है। जब काफी देर तक परिवार वाले महिला चिकित्सक से संपर्क नहीं कर पाते हैं तो फिर वे पुलिस में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाते हैं।

किसान ने जला हुआ शव देखा

टोल प्लाजा से करीब 30 किमी दूर गुरुवार सुबह एक किसान को महिला चिकित्सक का जला हुआ शव नजर आया, जिसके बाद किसान पुलिस को इसकी सूचना दी। फिर पुलिस ने गुमशुदगी की रिपोर्ट के आधार पर महिला चिकित्सक के परिवार के लोगों को घटनास्थल पर बुलाया। अधजले स्कार्फ और गोल्ड पेंडेंट से युवती के शव की पहचान हुई। पुलिस को आसपास से शराब की बोतलें भी मिलीं।

चार संदिग्ध हिरासत में 

इस मामले में पुलिस ने फिलहाल चार संदिग्धों को हिरासत में लिया है। घटना के बाद सोशल मीडिया पर लोग अपनी नाराजगी जाहिर कर रहे हैं। ट्वीटर पर भी महिला चिकित्सक को न्याय दिलाने के लिए उनके नाम से जुड़े हैशटैग ट्रेंड कर रहे हैं। इस मामले को लेकर सियासी बयानबाजी शुरू हो गई है। तेलंगाना के गृह मंत्री मो. महमूद अली ने कहा कि, ‘हम इस घटना से दुखी हैं, पुलिस अलर्ट है और अपराध को नियंत्रित कर रही है। दुर्भाग्यपूर्ण है कि उन्होंने 100 नंबर पर डायल करने की बजाय अपनी बहन को फोन किया। अगर ऐसा होता तो उन्हें बचाया जा सकता था।’

ये भी पढ़े…

15 साल की उम्र में 8 लोगों ने किया रेप, एसिड अटैक हुआ, अब तक 22 हजार महिलाओं को यौन तस्करी से आजाद करा चुकी है ये महिला

500 से ज्यादा महिला, पुरुष और बच्चों को 10 साल तक इस्लामिक स्कूल में बंधक बनाकर रखा, स्टाफ करता था रेप

सौतेले भाई के बच्चे की मां बनी नाबालिग बहन, कहा- रोज करता था रेप

Related posts