काशी-महाकाल एक्सप्रेस में भगवान शिव के लिए अलग से सीट, रास्तेभर बजती है भजनों की धुन

kashi mahakal express, narendra modi

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को एक ऐसी ट्रेन की शुरुआत की है जो भगवान शिव से जुड़े तीन तीर्थों को एक साथ जोड़ती है। वाराणसी से इंदौर के लिए चलने वाली ‘काशी महाकाल एक्सप्रेस’ अपने आप में काफी खास है। दरअसल इस ट्रेन में एक सीट भगवान शिव के लिए आरक्षित रखी गई है।



उत्तर रेलवे के प्रवक्ता दीपक कुमार ने बताया कि ट्रेन के काेच बी5 में सीट नंबर 64 काे भगवान भाेले बाबा के लिए आरक्षित रखा गया है। लाेगाें काे इसकी जानकारी रहे, इसके लिए सीट पर मंदिर बनाया गया है। लेकिन इस पर अब सवाल खड़े होने शुरू हो गए हैं। AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने इस फैसले पर सवाल खड़े किए हैं और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इसे लेकर ‘संविधान की प्रस्तावना’ ट्वीट किया है।

‘काशी महाकाल एक्सप्रेस’ की खासियत

  • वाराणसी से इंदौर के बीच 20 फरवरी से चलाई जाने वाली काशी-महाकाल एक्सप्रेस में आठ अलग-अलग तीर्थस्थलों के लिए पैकेज भी होगा। वाराणसी, अयोध्या, प्रयागराज, इंदौर, उज्जैन, भोपाल के धार्मिक व पर्यटन स्थलों के लिए आईआरसीटीसी ने एक पैकेज भी तैयार किया है।
  • ट्रेन में 9 एसी थ्री कोच, पैंट्री कार, दो ब्रेकवॉन कोच होंगे। यह देश की तीसरी निजी ट्रेन होगी, लेकिन इसमें क्रू मेंबर लड़कियां नही होगीं। हर बोगी में कॉफी और चाय की वेंडिंग मशीन होगी, जिसके लिए पैसे नहीं चुकाने होंगे।
  • इस ट्रेन के हर कोच में 5 सुरक्षाकर्मी तैनात होंगे, कुल 1080 सीटें होंगी। न्यूनतम किराया 1629 रुपए होगा। ट्रेन हफ्ते में दो दिन मंगलवार और गुरुवार को वाराणसी से चलेगी।
  • इसके एसी-3 श्रेणी के सभी कोच में हर समय ‘ऊं नम: शिवाय मंत्र’ बजता रहता है। इस मंत्र समेत भगवान शिव के अन्य भजनों की धुन भी बजती रहती है। इसमें बैठने पर एहसास होगा कि यह ट्रेन काशी विश्वनाथ से महाकालेश्वर के दर्शन कराने जा रही है।

  • आईआरसीटीसी ने इसके लिए बुकिंग शुरू कर दी है। ट्रेन में डायनाॅमिक फेयर रहेगा। यानी 70 फीसदी सीटें पैक होने के बाद प्रति सीट का किराया 10 फीसदी बढ़ेगा। 90% से ज्यादा सीटें पैक होने के बाद किराया 20% बढ़ेगा। हर यात्री का 10 लाख रुपए तक का बीमा भी रहेगा। काशी महाकाल एक्सप्रेस के हर कोच में सीसीटीवी कैमरे लगे हैं। हर केबिन में 6 चार्जिंग पॉइंट दिए गए हैं।
  • ट्रेन हफ्ते में दो दिन मंगलवार और गुरुवार को वाराणसी से चलेगी। यह लखनऊ, कानपुर, बीना, भाेपाल, उज्जैन होते हुए इंदौर तक पहुंचेगी। इंदौर से बुधवार और शुक्रवार को उज्जैन, संत हिरदाराम नगर (भोपाल), बीना, कानपुर और लखनऊ होकर वाराणसी जाएगी। वाराणसी-इंदौर वाया इलाहाबाद-कानपुर-बीना (82403) ट्रेन रविवार को चलेगी। सोमवार को इंदौर पहुंचेगी।

ये भी पढ़े…

तेजस के अलावा इन ट्रेनों के लेट होने पर भी यात्री ले सकते हैं मुआवजा, जानिए कैसे

लखनऊ से दिल्ली के लिए दौड़ पड़ी देश की पहली प्राइवेट ट्रेन तेजस ऐक्सप्रेस लेट होने पर मिलेगा 250 रुपए तक रिफंड

लड़ाकू विमान तेजस में उड़ान भरने वाले पहले रक्षा मंत्री बने राजनाथ सिंह, जानिए इस विमान की खूबियां

Related posts