ये है दुनिया का सबसे मोटा बच्चा, 10 साल की उम्र में है 200 किलो वजन, 4 लोगों के बराबर खाता है खाना

mohommad abrar,pakistan,mohommad abrar news

चैतन्य भारत न्यूज

यदि आपसे कोई कहे कि एक दस साल के बच्चे का जन्म 200 किलो है, तो शायद आप भी इस बात पर यकीन नहीं कर पाएंगे। लेकिन हम आपको आज एक ऐसे ही बच्चे के बारे में बता रहे हैं जिसका वजन उसकी उम्र के मुकाबले काफी ज्यादा है। ये बच्चा पाकिस्तान का रहने वाला है जिसका नाम है मोहम्‍मद अबरार। ज्यादा वजन के कारण अब अबरार का नाम दुनिया के सबसे भारी-भरकम बच्चों की सूची में शामिल हो गया है। उसे बचाने के लिए अब सर्जरी का सहारा लेना पड़ेगा।

mohammed abrar

जानकारी के मुताबिक, जन्म के समय अबरार का वजन 3.6 किलो था। जैसे-जैसे वह बड़ा होता गया उसका वजन भी बढ़ने लगा। जब वह एक साल का था तब दो लीटर दूध पी जाता था। छह महीने की उम्र में अबरार का वजन 20 किलोग्राम हो गया। उसके वजन बढ़ने का सिलसिला नहीं थमा, नतीजन अब वह दो सौ किलोग्राम का हो गया है। अबरार की मां ने बताया कि, वह चार वयस्‍कों के बराबर भोजन करता है। बढ़े हुए वजन के कारण उसे खड़े होने में और चलने में भी काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।

mohammed abrar

अबरार के माता-पिता ने कहा कि, उसे हमेशा भूख लगी रहती है। उसके दो और भाई-बहन है लेकिन फिर भी वह उनके साथ खेल नहीं पाता है क्योंकि वह एक समय में सिर्फ तीन कदम ही उठा पाता है। अबरार के लिए एक अलग प्रकार का बेड और स्‍पेशल झूला बनावाया गया है ताकि वह उस पर आराम से बैठ सके। अबरार स्कूल भी नहीं जा पाता है। मां जरीना अबरार की नैपी अकेले नहीं बदल पाती हैं। अबरार के माता-पिता ने ये उम्मीद जताई है कि जल्द ही उनका बेटा सामान्‍य वजन का हो जाएगा। उसकी सर्जरी के लिए देश के सबसे प्रमुख बैरिएट्रिक सर्जन माजुल हसन तैयार हैं। डॉक्टरों ने कहा अबरार दुनिया का सबसे मोटा बच्चा है। अबरार से पहले ये रिकॉर्ड इंडोनेशिया के आर्य परमाना के नाम था। तीन साल पहले 10 साल की उम्र में आर्य परमाना का वजन 190 किलो था।

Related posts